फोरलेन तैयार, पुल निर्माण अधर में

फोरलेन तैयार, पुल निर्माण अधर में
shivpuri

अधूरा काम छोड़ गई कंपनी,  पेटी कॉन्ट्रेक्टर भुगतान के लिए परेशान, हाईवे पर बढ़ रहा खतरा


शिवपुरी.
ग्वालियर से शिवपुरी के बीच बन रही फोरलेन सड़क लगभग तैयार है, लेकिन इसके बीच मौजूद पुलों का निर्माण अधर में अटक गया। लगातार हो रही बारिश के चलते बरसों पुराने पुलों की हालत दिन पर दिन जर्जर होती जा रही है। एक पुल पर तो वन-वे ट्रैफिक कर दिया गया, जबकि शेष दो पर भी जल्द ही इसी तरह का कोई कदम उठाया जा सकता है।  सूत्रों की मानें तो अधूरे पुल बनाकर वो कंपनी काम छोड़ गई, जिसे एस्सेल ग्रुप ने ठेका दिया। पेटी कॉन्ट्रेक्टर अपने भुगतान के लिए परेशान हैं, जबकि हाईवे पर स्थित इन पुलों की हालत बिगडऩे से गुजरने वाले लोगों की जान को खतरा बना हुआ है। एनएचएआई की प्रोजेक्ट मैनेजर इस संबंध में मीडिया से बात करने से परहेज कर रही हैं, जबकि प्रशासन भी चिट्ठी-पत्री तक सिमट कर रह गया।
शिवपुरी से ग्वालियर के बीच 117 किमी की बनाई जा रही फोरलेन सड़क का काम लगभग पूर्ण होने की कगार पर है। हाईवे का काम एस्सेल ग्रुप ने लिया है, जिसमें सड़क बनाने का काम पेटी पर दिलीप बिल्डकॉन को दिया गया। इसके अलावा गाराघाट पुल के अलावा मुडख़ेड़ा के दो पुल, डिग्री पुल एवं मोहना में पार्वती नदी पर पुल बनाने का काम आदिनाथ कंस्ट्रक्शन कंपनी को पेटी कॉन्ट्रेक्ट पर दिया गया। बताते हैं कि पुल बनाने के नाम पर पिलर खड़े करने के बाद से काम को बंद कर दिया गया। सूत्रों का कहना है कि आदिनाथ कंस्ट्रक्शन कंपनी ने स्थानीय पेटी कॉन्ट्रेक्टर को पुल बनाने का काम दिया, जिन्हें भुगतान न होने की वजह से काम को बीच में ही छोड़ दिया गया।
लगातार हो रही बारिश के चलते बरसों पुराने  पुलों की हालत दिनोंदिन जर्जर होती जा रही है। सुभाषपुरा थाना प्रभारी की शिकायत पर  प्रशासन व एनएचएआई सहित एस्सेल ग्रुप के अधिकारियों के बीच  चर्चा हुई तो भी निष्कर्ष कुछ नहीं निकला। गाराघाट पुल से एक-एक वाहन को निकालने पर निर्णय लिया गया, जबकि अधूरे पड़े पुल निर्माण के कार्य को जल्द पूरा करने के संबंध में किसी ने कुछ नहीं कहा। चूंकि पुराने पुल-पुलियों की जगह नए पुल बनाए जाने हैं, इसलिए खतरनाक स्थिति में जा पहुंचे पुलों को भी दुरुस्त नहीं किया जा रहा। जिम्मेदारों की इस लापरवाही के चलते उन लोगों की जान को खतरा बना हुआ है, जो इन खतरनाक पुलों से होकर गुजर रहे हैं।
हमें सड़क का काम दिया
ग्वालियर से शिवपुरी के बीच फोरलेन सड़क में हमने केवल सड़क बनाने का काम लिया है। पुल-पुलियों का काम हमारे पास नहीं है। वो किसी दूसरी कंपनी को दिया है, इसलिए उसके बारे में हमें अधिक पता नहीं। शासन के आदेशानुसार हम गाराघाट पुल का रख-रखाव कर रहे हैं।
भानुप्रताप सिंह, लाइजनिंग ऑफिसर दिलीप बिल्डकॉन
जल्द शुरू होगा काम
यह बात सही है कि पुलों का काम आदिनाथ कंस्ट्रक्शन को दिया है। काम छोडऩे जैसी बातें हमारी इंटरनल हैं। यदि कोई कंपनी काम छोड़कर चली जाएगी तो भी हम काम तो पूरा करवाएंगे। बारिश रुकते ही आपको पुलों पर काम नजर आएगा।
आरपी सिंह,महाप्रबंधक एस्सेल ग्रुप
एनएचएआई होगी जिम्मेदार
यह हाईवे एनएचएआई का है और वो किससे काम करवा रही है, इससे हमें कोई लेना-देना नहीं। यदि कोई भी घटना होती है तो उसके लिए एनएचएआई जिम्मेदार होगी। हमने इसके लिए उन्हें पत्र भी लिख दिया है।
रूपेश उपाध्याय, एसडीएम शिवपुरी




MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned