कॉलेज में छात्राओं की अस्मिता खतरे में....!

कॉलेज में छात्राओं की अस्मिता खतरे में....!

Rakesh shukla | Publish: Apr, 17 2018 05:22:53 PM (IST) Shivpuri, Madhya Pradesh, India

एसपी बोले: देंगे सुरक्षा, कॉलेज परिसर में हुई स्टूडेंट्स व पुलिस अधिकारियों में तीखी झड़प

शिवपुरी। कॉलेज में छात्राओं की अस्मिता खतरे में है, बाहरी आसामाजिक तत्व आए दिन कॉलेज में घुस कर छात्राओं के साथ अभद्रता करते हैं। पुलिस लगातार गुहार लगाने के बावजूद कोई सुनवाई नहीं कर रही है। यह आरोप शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंच कर लगाए। इस दौरान विद्यार्थियों ने नारेबाजी व धरना प्रदर्शन भी किया। पुलिस अधीक्षक ने नाराज विद्यार्थियों को आश्वस्त किया कि उनकी सुरक्षा पुलिस की जिम्मेदारी है और वह उन्हें पूरी सुरक्षा प्रदान करेंगे।
उल्लेखनीय है कि सोमवार को कुछ लडक़ों ने कॉलेज परिसर में घुस कर छात्र संघ सचिव अमित दुबे की मारपीट कर दी थी। छात्र संघ के पदाधिकारियों के अनुसार इस मामले में विधायक यशोधरा राजे के हस्तक्षेप के बाद एफआईआर तो कर दी गई लेकिन पुलिस ने आरोपी को न तो गिरफ्तार किया और न ही उसे पुलिस का भय दिखाया। इस कारण आरोपी अमित दुबे को फिर से मारने की धमकी दे रहे हैं। इसी के चलते मंगलवार को छात्र संघ पदाधिकारी, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद तथा एनएसयूआई के पदाधिकारी सहित कई छात्र-छात्रा एकत्रित होकर एसपी ऑफिस पहुंच गए। वहां सभी ने न सिर्फ नारेबाजी की बल्कि धरने पर बैठ गए। छात्रों की नारेबाजी सुन कर एसडीओपी जीडी शर्मा व धर्मेन्द्र सिंह तोमर बाहर आ गए और उन्होंने छात्र छात्राओं से बात की। बच्चों ने उन्हें पूरी बात बताकर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की, तो एसडीओपी शर्मा ने बच्चों को कानून का हवाला देते हुए गिरफ्तारी करवाने से इंकार कर दिया। इस बात पर छात्र-छात्राओं और एसडीओपी के बीच तीखी बहस हो गई। इसके बाद छात्र संघ पदाधिकारी पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पांडे से भी मिले। उन्होंने एसपी से कहा कि कॉलेज में आए दिन असामाजिक तत्व घुस कर झगड़ा करते हैं, छात्राओं से अभद्रता करते हैं। कल मारपीट के मामले में शामिल एक आरोपी पर पूर्व में छेड़छाड़ का मामला भी दर्ज हो चुका है। छात्र संघ अध्यक्ष अनुप्रिया तंवर, सहित सचिव अमित दुबे और उपाध्यक्ष योगेश ने पुलिस अधीक्षक से एक स्वर में कहा कि वह फिजीकल चौकी प्रभारी को आपके नाम एक ज्ञापन दे चुके हैं कि कॉलेज में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई जाए। एफआरवी को कॉलेज के पास खड़ी करवाया जाए, परंतु वह उस पर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं। पुलिस अधीक्षक का कहना है कि हम इस मामले को दिखवाते हैं और आपकी सुरक्षा की जिम्मेदारी हमारी है। हम आपकी पूरी सुरक्षा करेंगे।
बच्चों को दिखाया धारा १४४ का भय
जिस समय छात्र संघ के पदाधिकारियों और पुलिस अधिकारियों के बीच तीखी बहस होने लगी तो, एसडीओपी शर्मा ने बच्चों को अचानक से बताया कि आपको पता होना चाहिए। इस समय धारा १४४ लागू है। ऐसे में आप सभी लोग एक साथ यहां आकर इस धारा का उल्लंघन कर रहे हो, आप दो लोग भी तो यहां आकर बात कर सकते थे। इस पर बच्चों का कहना था कि तो फिर उन लोगों पर धारा १४४ के उल्लंघन का मामला दर्ज क्यों नहीं किया जिन्होंने कल कॉलेज में आकर मारपीट की।
कॉलेज प्राचार्य को भी सौंपा ज्ञापन
छात्र संघ ने पुलिस अधीक्षक के अलावा कॉलेज के प्राचार्य डॉ एक के मिश्रा को ज्ञापन सौंपा और उनके कक्ष में पहुंच कर वहां धरना दिया। छात्र संघ ने इस घटना के विरोध में आरोपियों के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई करने की मांग कॉलेज प्रबंधन से की है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned