निर्माणाधीन पानी की टंकी से गिरकर मजदूर की मौत

नगर में फूटेतालाब के पास जलावर्धन योजना के तहत निर्माणाधीन टंकी पर काम कर रहे मजदूर की नीचे गिरने से मौत हो गई। पुलिस ने शव का पीएम कराकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

शिवपुरी/ करैरा. नगर में फूटेतालाब के पास जलावर्धन योजना के तहत निर्माणाधीन टंकी पर काम कर रहे मजदूर की नीचे गिरने से मौत हो गई। पुलिस ने शव का पीएम कराकर मामले की जांच शुरू कर दी है।बताया जा रहा है कि बिना कोई सुरक्षा इंतजाम के मजदूर टंकी पर काम कर रहा था, जिसके चलते यह घटना हुई।

जानकारी के मुताबिक राजस्थान के नागौर में रहने वाला पप्पू (२५) शुक्रवार की दोपहर फूटे तालाब के पास निर्माणाधीन पानी की टंकी पर काम कर रहा था। शाम करीब पौने ५ बजे अचानक से काम करते समय पप्पू टंकी के सबसे ऊपर के हिस्से से संतुलन बिगडऩे के कारण नीचे जमीन पर आ गिरा। इस घटना में नीचे गिरते ही कुछ ही देर में पप्पू की मौत हो गई। लोगों ने बताया कि पप्पू सहित अन्य मजदूर करीब ६० फीट ऊंची टंकी पर बिना कोई सुरक्षा इंतजाम के काम कर रहे हंै और इस टंकी सहित योजना का काम करने वाली कंपनी रिहान की लापरवाही के कारण मजदूर की जान चली गई। मामले की सूचना पर से मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव का पीएम कराकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

नहीं लगा था चारों तरफ जाल
यहां बता दें कि जब भी ऊंचाई वाले काम होते हैं तो सुरक्षा के लिए चारों तरफ से एक जाल लगाया जाता है, साथ ही हर मजदूर को कमर बेल्टपहनाया जाता है। ऐसे में कोई घटना होती है तो मजदूर की मौत नहीं होती, लेकिन कंपनी ने ऐसी कोई व्यवस्था इस निर्माण के दौरान नहीं की थी जिसके चलते यह घटना हुई।

मुझे इस घटना के बारे में कोई जानकारी नही है। मैं पता करवाता हूं। इस पूरे मामले में जिस ठेकेदार के पास काम है उसको की सुरक्षा के इंतजाम करना चाहिए थे।अगर कोई इंतजाम नहीं थे तो लापरवाही ठेकेदार की है। मैं पूरे मामले को दिखवाकर उचित कार्रवाई करूंगा।
आरडी शाक्य, परियोजना प्रबंधक, मप्र अर्बन डवल्पमेंट कंपनी, शिवपुरी।

Rakesh shukla Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned