जिले के तीन अवैध क्लीनिकों पर कार्रवाई कर ठंडा पड़ा विभाग, कार्रवाई न होने से विभाग की भूमिका पर उठ रहे सवाल

जिले के तीन अवैध क्लीनिकों पर कार्रवाई कर ठंडा पड़ा विभाग, कार्रवाई न होने से विभाग की भूमिका पर उठ रहे सवाल
Three illegal clinics to be treated cold

Anil Singh Kushwaha | Updated: 04 Jun 2019, 06:53:28 PM (IST) Singrauli, Singrauli, Madhya Pradesh, India

जिले में चिह्नित हैं दो सैकड़ा से अधिक अवैध क्लीनिक

सीधी. सीधी शहर सहित जिले भर में संचालित अवैध क्लीनिकों पर कार्रवाई को लेकर स्वास्थ विभाग ठंडा पड़ा हुआ है। बिना डिग्री डिप्लोमा के झोलाछाप डॉक्टर क्लीनिकों का संचालन कर लोगों के स्वास्थ के साथ के खिलवाड़ कर रहे हैं। जिले भर में संचालित ऐसी अवैध क्लीनिकों की जानकारी स्वास्थ विभाग के अधिकारियों के पास भी है, बावजूद इसके कार्रवाई नहीं की जा रही है।

झोलाछाप डॉक्टर संचालित कर रहे बकायदा क्लीनिक
हालांकि गत माह कलेक्टर अभिषेक सिंह के निर्देश के बाद शहर में करीब आधा दर्जन क्लीनिकों पर स्वास्थ विभाग द्वारा एसडीएम गोपद बनास के नेतृत्व में छापामार कार्रवाई करते हुए तीन क्लीनिकों को अवैध पाए जाने पर उनको शील कर दिया गया था, इस कार्रवाई के बाद शहर में अवैध क्लीकिन संचालित करने वाले झोलाछाप चिकित्सक कुछ दिनों के लिए क्लीनिकों का संचालन बंद कर दिए थे, लेकिन विभाग कार्रवाई ठंडी पड़ते देख एक बार फिर क्लीनिकों का संचालन शुरू करते हुए लोगों के स्वास्थ के साथ खिलवाड़ शुरू कर दिया गया है। बावजूद इसके छापामार कार्रवाई नहीं की जा रही है।

नहीं हो रही कार्रवाई
शहर के महज तीन अवैध क्लीनिकों में कार्रवाई के बाद स्वास्थ विभाग द्वारा इतिश्री कर दिए जाने से विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों पर सवाल खड़े हो रहे हैं, लोगों का कहना है कि तीन अवैध क्लीनिकों पर कार्रवाई के बाद अवैध क्लीनिक संचालकों के बीच खौफ पैदा कर उनसे वसूली शुरू कर दी गई है, इसीलिए कार्रवाई को लेकर कलेक्टर के आदेश को भी ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है।

स्टाफ की कमी के कारण जांच प्रभावित
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ अधिकारी डॉ. आरएल वर्मा ने बताया कि अवैध क्लीनिकों का चिन्हांकन किया जा चुका है, कार्य के दबाव व स्टाफ की कमी के कारण कार्रवाई प्रभावित हो रही है, अभी हम लोग दस्तक अभियान की तैयारी में व्यस्त हैं, इसके बाद अवैध क्लीनिकों के विरुद्ध अभियान चलाकर कार्रवाई की जाएगी।

जिले में दो सैकड़ा अवैध क्लीनिक चिह्नित
विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जिले में करीब दो सैकड़ा से अधिक अवैध क्लीनिक संचालित हैं, जिनका विभाग द्वारा चिन्हांकन किया जा चुका है, इसमें सीधी शहर में करीब तीन दर्जन क्लीनिकों के साथ ही ग्रामीण अंचलों में सेमरिया, रामपुर नैकिन, चुरहट, खड्डी, मझौली, कुसमी, टमसार, मड़वास, कुचवाही, बहरी, मयापुर, अमिलिया, सिहावल सहित अन्य कस्बा शामिल हैं। बताया गया कि यहां बिना डिग्री डिप्लोमा के डॉक्टर बनकर खुलेआम क्लीनिक संचालन करते हुए मरीजों को भर्ती कर उनका उपचार कर रहे हैं। ये डॉक्टर ग्रामीणों से मोटी रकम लेकर उनके स्वास्थ से खिलवाड़ कर रहे हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned