हादसे से सबक नहीं ले रहा परिवहन विभाग

सड़क किनारे अभी भी लग रहा भारी वाहनों का जमावड़ा, कमिश्रर ने ऐसे वाहनों पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई के दिए थे निर्देश

सीधी। हाइवे में सड़क के किनारे भारी वाहनों के कतारबद्ध तरीके से खड़े रहने के कारण सड़क हादसे हो रहे हैं, इसके बाद भी राष्ट्रीय राजमार्ग में सड़क से सटकर खड़े किए जा रहे भारी वाहनों पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई नहीं की जा रही है।
अभी हाल ही में रीवा-सीधी राष्ट्रीय राजमार्ग में रीवा जिले के गुढ़ के पास बाईपास में सड़क से सटकर खड़े ट्रक में जबलपुर से सीधी आ रही प्रधान बस के टकरा जाने से ९ यात्रियों की घटना स्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गई थी, वहीं दो दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए थे। इस घटना के बाद कमिश्रर रीवा डॉ.अशोक भार्गव द्वारा परिवहन विभाग को निर्देशित किया गया था कि हाइवे में सड़क से सटकर जो भारी वाहन खड़े किए जा रहे हैं, उन पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की जाए, लेकिन सीधी जिले में उक्त निर्देश का पालन होता नहीं दिख रहा है। पत्रिका द्वारा सीधी शहर के बाईपास का रविवार की सुबह भ्रमण कर जायजा लिया गया तो बाईपास में सड़क से सटाकर भारी वाहनों की लंबी कतार लगी हुई थी, कुछ वाहन तो सड़क के एक तिहाई हिस्से में खड़े होकर हादसे को आमंत्रण दे रहे थे, बावजूद इसके ऐसे वाहन संचालकों को परिवहन विभाग द्वारा न तो समझाइश दी जा रही है और न ही किसी प्रकार की कार्रवाई ही की जा रही है, जिससे गुढ़ की तरह ही सड़क हादसे का खतरा बना हुआ है। सबसे बड़ी बात तो यह है कि जिम्मेदार अधिकारी इतना बड़ा हादसा होने के बाद भी सबक नहीं ले रहे हैं।

Manoj Pandey Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned