VIDEO: ऑक्सीजन प्लांट के लिए भामाशाहों ने दिया 23 लाख 45 हजार रुपए का सहयोग

सीकर. कोरोना महामारी के बीच बढ़ रही ऑक्सीजन की समस्या को दूर करने के लिए जिले में भामाशाहों के सहयोग का सिलसिला लगातार जारी है।

By: Sachin

Published: 07 May 2021, 05:47 PM IST

सीकर. कोरोना महामारी के बीच बढ़ रही ऑक्सीजन की समस्या को दूर करने के लिए जिले में भामाशाहों के सहयोग का सिलसिला लगातार जारी है। जिले में ऑक्सीजन प्लांट के लिए शुक्रवार को भी भामाशाहों ने 23 लाख 45 हजार रुपए सहित विभिन्न सुविधाओं का सहयोग किया है। सीकर विधायक राजेन्द्र पारीक व सभापति जीवण खां की अगुआई में विभिन्न सामाजिक संगठनों, व्यापारियों व भामाशाहों के सहयोग से एकत्रित राशि नगद व चेक के रूप में कलक्टर अविचल चतुर्वेदी को सौंपी गई। इस दौरान नगद राशि के साथ नगर परिषद सभापति जीवण खां के भाई व सहयोगी ने दुबई से ऑक्सीजन सिलेंडर के रेगुलेटर भेजे हैं। इसके अलावा कॉविड सेंटर में काम करने वाले डॉक्टर, लैब टेक्नीशियन, सफाई कर्मचारी व पुलिस के जवानों की सुरक्षा के लिए नगरपरिषद की ओर से फेस शील्ड, सैनिटाइजर व एन- 95 मास्क सहित कई अन्य जरूरी सामग्री भी उपलब्ध करवाई गई है। इसी तरह गोकुलपुरा के जोगेंद्र खीचड़, बीएल. खीचड़, वीरेंद्र खीचड़, मुकुल खीचड़ ने सीकर जिले में ऑक्सीजन प्लांट के लिए पांच लाख रु. की राशि के चेक का सहयोग दिया है।

विभिन्न संगठनों का मिल रहा सहयोग
सीकर विधायक राजेंद्र पारीक व सभापति जीवन खां ने बताया कि जिला मुख्यालय पर लगने वाले ऑक्सीजन प्लांट के लिए अग्रवाल प्रन्यास, माहेश्वरी समाज, रंगरेज समाज, बकरा मंडी के व्यापारियों, सरपंचों, पार्षदों व जनप्रतिनिधियों सहित विभिन्न शैक्षिक व सामाजिक संगठनों, व्यापारियों, व भामाशाहों का सहयोग मिल चुका है। जिसका सिलसिला आगे भी जारी रहने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि जिलेवासी कोरोना महामारी की इस जंग में एक वीर योद्धा की तरह भूमिका निभा रहे हैं।

शिक्षण संस्थान दे चुके हैं एक करोड़ रुपए
गौरतलब है कि जिले में ऑक्सीजन प्लांट के लिए इससे पहले भी कई भामाशाह सामने आ चुके हैं। देा दिन पहले ही ऑक्सीजन प्लांट के लिए निजी शिक्षण संस्थान संघ एक करोड़ रुपए की राशि कलक्टर अविचल चतुर्वेदी को सौंप चुके हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned