बुजुर्गों की पहली पसंद बना रामेश्वर धाम, 6 हजार यात्री रेल तो हवाई जहाज से जाएंगे 4 हजार यात्री

बुजुर्गों की पहली पसंद बना रामेश्वर धाम, 6 हजार यात्री रेल तो हवाई जहाज से जाएंगे 4 हजार यात्री

Vinod Singh Chouhan | Updated: 24 Jun 2018, 10:24:48 AM (IST) Sikar, Rajasthan, India

देश के प्रमुख सत्रह धार्मिक स्थलों में से राजस्थानवासी सबसे कम आयोध्या जाना पसंद कर रहे हैं।

सीकर.

जिस रामलला को लेकर वर्ष 1992 में आयोध्या व जयपुर सहित अनेक जगह विरोध प्रदर्शन हुए थे, कई जगह कफ्र्यू लगाना पड़ गया था। उसे अब निशुल्क देखना भी राजस्थान के भक्तों की ना पहली पसंद है ना ही दूसरी। देश के प्रमुख सत्रह धार्मिक स्थलों में से राजस्थानवासी सबसे कम आयोध्या जाना पसंद कर रहे हैं। उनकी पहली पसंद रामेश्वरम है। चौंकाने वाले इन आंकड़ों का खुलासा खुद राजस्थान के देवस्थान विभाग ने किया है। देवस्थान विभाग की ओर से दीनदयाल उपाध्याय वरिष्ठ नागरिक तीर्थ योजना के तहत राजस्थान के मूल निवासियों को देश के प्रमुख धार्मिक स्थलों की निशुल्क यात्रा करवाई जाती है। यात्रा में कुल दस हजार यात्रियों का अंतिम चयन किया जाता है। इसमें छह हजार यात्री रेल से तथा चार हजार यात्रियों को हवाई जहाज से यात्रा करवाई जाती है। यात्रा का पूरा खर्चा विभाग वहन करता है। इस बार आवेदन की अंतिम तिथि बीस जून थी। योजना के लिए कुल 37 हजार 92 आवेदन प्राप्त हुए हैं। इन आवेदनों से 61 हजार 87 यात्री निशुल्क यात्रा करना चाहते हैं। हवाई जहाज से यात्रा करने की चाहत रखने वाले 23749 आवेदकों में से सबसे ज्यादा रामेश्वर जाने के इच्छुक हैं। देश के कुल सत्रह धार्मिक स्थलों में मात्र 75 आवेदकों ने ही लखनऊ व अयोध्या जाने को पहली प्राथमिकता लिखा है, जो सभी धार्मिक स्थलों में से सबसे कम है।


प्राथमिकतावार पंजीकरण रिपोर्ट
स्थान पहली प्राथमिकता इच्छुक पसंद का क्रम
रामेश्वरम, मीनाक्षी मंदिर, मदुरई 8939 1
जगन्नाथपुरी-लिंगराज मंदिर,कोणार्क-सूर्य मंदिर 4286 2
वैष्णोदेवी 3820 3
तिरुपति-श्रीपुरम लक्ष्मी स्वर्ण मंदिर, कांचीपुरम 2596 4
द्वारकापुरी, सोमनाथ, नागेश्वर 1441 5
शिरड़ी-शनि सिंगनापुर,त्रयाम्बकेश्वर, अजंता,एलोरा 520 6
कामाख्या-गुवाहाटी 331 7
गोवा 309 8
प्रयाग-चित्रकूट-वाराणसी-सारनाथ 297 9
सम्मेदश शिखर-गया-बोधगया,-पावापुरी-कुण्डलपुर 238 10
हरिद्वार-ऋषिकेश-मसूरी-देहरादून 198 11
अमृतसर-आनंदपुर साहिब 184 12
उज्जैन,ओंकारेश्वर 147 13
श्रवणबेलगोला-मैसूर 138 14
कोच्ची, त्रिशूर, सुब्रमण्यम स्वामी मंदिर, गुरुवायुर 129 15
बिहार शरीफ, नालंदा,राजगीर गया, बोधगया 101 16
लखनऊ -अयोध्या 75 17


60 साल वालों की चाहत गोवा
इस निशुल्क यात्रा में साठ वर्ष या इससे ज्यादा उम्र के राजस्थान के मूल निवासी ही निशुल्क यात्रा कर सकते हैं। इस यात्रा के लिए 309 व्यक्तियों ने समुद्र किनारे वाले शहर गोवा को पहली प्राथमिकता बताया है। 297 ने गोवा को दूसरी प्राथमिकता तथा 356 ने तीसरी प्राथमिकता बताया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned