गैंगस्टर सुभाष बराल व झाझड़ फायरिंग के आरोप से बरी

गैंगस्टर सुभाष बराल और कुलदीप झाझड़ को 2013 में राधाकिशनपुरा में फायरिंग व पुलिस को टक्कर मारने के मामले में साक्ष्यों के अभाव में कोर्ट ने बरी कर दिया है।

By: Sachin

Published: 02 Mar 2021, 02:56 PM IST

सीकर. गैंगस्टर सुभाष बराल और कुलदीप झाझड़ को 2013 में राधाकिशनपुरा में फायरिंग व पुलिस को टक्कर मारने के मामले में साक्ष्यों के अभाव में कोर्ट ने बरी कर दिया है। एडीजे-दो महेंद्र कुमार ढाबी ने सोमवार को फैसला सुनाया है। 2013 में राधाकिशनपुरा में फाटक पर ललित सैनी पर फायरिंग की गई थी। जिसमें सुभाष बराल और कुलदीप झाझड़ शामिल थे। ललित सैनी ने दोनों के खिलाफ फायरिंग किए जाने का मामला दर्ज कराया था। फायरिंग की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस की जीप को टक्कर मार कर दोनों भागे। तब पुलिस ने पीछा कर कुलदीप झाझड़ को पकड़ लिया था। इस दौरान सुभाष बराल वहां से फरार हो गया। गोकुलपुरा में भागते समय पेड़ से सुभाष की गाड़ी टकरा गई। ग्रामीण हादसे को देखकर मौके पर पहुंच गए। सुभाष को भी चोट लगी। कुछ ही देर में पीछा करते हुए पुलिस भी पहुंच गई थी। तब थानाधिकारी राजेंद्र रावत ने सुभाष को पकड़ लिया था। दोनों के पास से देशी कट्टा व कारतूसों का जखीरा बरामद हुआ था। पुलिस ने दोनों के पास से हथियार बरामद होना दिखाया। पुलिस ने रिकॉर्ड में सुभाष बराल द्वारा फायरिंग करने की बात कहीं। कोर्ट में वकील ने दावा किया कि जब सुभाष ने फायरिंग की तो कुलदीप के पास से कैसे हथियार बरामद हुए। कोर्ट में साक्ष्यों के अभाव के कारण दोनों को बरी कर दिया गया।

पेड़ों को काटने से मना किया तो हुआ विवाद

सीकर. बाजौर में महिला ने खेत से पेड काटने से मना किया तो कुल्हाड़ी लेकर उसे मारने दौड़े। उद्योगनगर थाने में महिला ने मामला दर्ज कराया है। एएसआई विद्याधर सिंह को मामले की जांच दी गई है। गीता पुत्री फूलाराम निवासी बाजौर ने रिपोर्ट दर्ज कराई है। उसने बताया कि सीकर से जयपुर जाने वाले रास्ते पर उसके खेत है। सुबह नौ बजे विष्णु सहित अन्य खेत में आ गए। वे खेत में हरे पेड़ों को काट रहे थे। जिन्हें पेड़ काटने से मना किया तो उनके बीच में विवाद हो गया। इस बीच आरोपी कुल्हाड़ी लेकर उसे मारने के लिए दौड़े। जैसे तैसे वह बचकर घर में जा कर छिप गई। आरोप है कि आरोपी उसे कई सालों से परेशान कर रहे है और जमीन को हड़पना चाहते है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned