खदान में डूबे युवक का 28 घंटे बाद भी नहीं लगा सुराग, एनडीआरएफ की टीम भी जुटी

राजस्थान के सीकर जिले के पाटन थाना इलाके के मीणा का नांगल गांव के खदान में डूबे हरियाणा के अलीपुर निवासी संदीप का शव 28 घंटे बाद भी नहीं निकाला जा सका है।

By: Sachin

Published: 15 Jun 2021, 05:16 PM IST

सीकर/पाटन. राजस्थान के सीकर जिले के पाटन थाना इलाके के मीणा का नांगल गांव के खदान में डूबे हरियाणा के अलीपुर निवासी संदीप का शव 28 घंटे बाद भी नहीं निकाला जा सका है। एसडीआरएफ को सफलता नहीं मिलने पर अब जयपुर से एनडीआरएफ की टीम भी बुलाई गई है। जो करीब एक घंटे से एसडीआरएफ के साथ मिलकर युवक की तलाश में जुटी है। इससे पहले एसडीआरएफ ने रात साढ़े दस बजे रोके गए रेस्क्यू ऑपरेशन को सुबह छह बजे वापस शुरू कर दिया। वोट से वाइब्रेशन सहित गोताखोर बार बार पानी की तह तक डूबकी लगाकर युवक की तलाश करते रहे। पर घंटों की मशक्कत के बाद भी उसका कोई सुराग नहीं लगा।

एसपी ने लिया जायजा
खदान में जारी रेस्कयू ऑपरेशन का जायजा लेने मंगलवार को पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप भी मौके पर पहुंचे। जिन्हेांने मौका मुआयना करने सहित सारे घटनाक्रम की जानकारी ली। कुछ देर रुकने के बाद वे वापस लौट गए। उधर, उपखंड अधिकारी बृजेश कुमार गुप्ता, तहसीलदार सत्यवीर यादव, नायब तहसीलदार धर्मेंद्र स्वामी, बीडीओ रेखा रानी व्यास, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रतन लाल भार्गव, थानाधिकारी बृजेश सिंह तंवर अब भी मौके पर जमे हुए हैं।

नहाने उतरा था युवक
गौरतलब है कि पाटन इलाके हरियाणा का अलीपुर निवासी संदीप यादव (24) पुत्र हरिराम यादव मंगलवार को सुबह दो साथियों संजय व अभिषेक के साथ मीणा की नांगल आया था। जहां तीनों एक खदान के पानी में नहाने उतरे। इसी दौरान वहां पहले से मौजूद लोगों को ऊंचाई से पानी में कूदते देखक संदीप ने भी ऊंचे चढ़कर पानी में छलांग लगा दी थी। जिसके बाद ही वह दिखाई देना बंद हो गया था। कुछ देर तलाशने पर भी नहीं मिलने पर दोनों साथी दौड़कर पाटन पुलिस थाना पहुंचे थे। सूचना पर पुलिस व प्रशासन ने पहले गणेश्वर से गोताखोर बुलाकर सर्च ऑपरेशन शुरू किया। लेकिन, सफलता नहीं मिलने पर शाम को जयपुर से एसडीआरएफ की टीम बुलाई गई। जिसने रात को साढ़े दस बजे और फिर सुबह छह बजे बाद सर्च ऑपरेशन शुरू किया।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned