फेसबुक पर ऑनलाइन देखकर कार खरीदने पहुंचे दो युवक, फिर जो हुआ उसे जानकर उड़ जाएंगे होश

सीकर. ठगों ने लोगों से धोखाधड़ी करने का नया तरीका अपना लिया है। फेसबुक के मार्केट प्लस एप्प से आनलाइन गाड़ी खरीदने का झांसा देकर बदमाश छीन कर जोधपुर ले गए। विशेष शाखा टीम ने दो बदमाशों को इनोवा गाड़ी के साथ जोधपुर से गिरफ्तार किया है।

सीकर. ठगों ने लोगों से धोखाधड़ी करने का नया तरीका अपना लिया है। फेसबुक के मार्केट प्लस एप्प से आनलाइन गाड़ी खरीदने का झांसा देकर बदमाश छीन कर जोधपुर ले गए। विशेष शाखा टीम ने दो बदमाशों को इनोवा गाड़ी के साथ जोधपुर से गिरफ्तार किया है। दोनों बदमाश अब तक दर्जनों गाडियों को ऑनलाइन खरीदने का झांसा देकर ले जा चुके है। डीएसपी ग्रामीण राजेश आर्य ने बताया कि सुखराम व राकेश कुमार को गिरफ्तार किया गया है। दोनों से अन्य वारदातों को लेकर पूछताछ कर रहे है। उन्होंने बताया कि 7 जनवरी को किशोर सिंह पुत्र मोहनलाल निवासी सांगलिया लोसल हाल राधाकिशनपुरा ने बताया कि उनकी इनोवार गाड़ी को सरदार सिंह निवासी पलसाना चलाता था। गाड़ी को बेचने के लिए फेसबुक के मार्केट प्लस एप्प पर डाला था। सात जनवरी को सरदार सिंह गाडी लेकर गांव आया था। तब दो युवक गाड़ी को खरीदने के लिए आ गए। गाड़ी को देखने के बाद उन्होंने एक-दिन में बताने की बात कहीं। वे जाने लगे तो उन्होंने कहा कि हमें हाइवे तक छोड़ दो। सरदार सिंह तीनों को लेकर हाइवे पर आ गया। वहां पर एक युवक ने उतर कर कहा कि इंजन से तेल निकल रहा है। इसके बाद सरदार सिंह उतर कर देखने लगा तो तीनों ने धक्का देकर उसे नीचे गिरा दिया। इसके बाद गाड़ी को लेकर भाग गए।
मोबाइल नंबर की लोकेशन व फुटेज से खुला राज
विशेष शाखा से इंस्पेक्टर अरविंद सिंह, लोसल थानाधिकारी घासीराम, रानोली थानाधिकारी राजेश कुमार, हैडकांस्टेबल नौरंगलाल,सिपाही विकास कुमार, महेश कुमार, प्रदीप को जांच में लगाया गया। इसके बाद पुलिस टीम ने पलसाना में पेट्रोल पंप पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले। वहीं पीडि़त के पास आए नंबरों के आधार लोकेशन निकाली। पुलिस को बदमाशों के जोधपुर में होने का पता लगा। पुलिस ने जोधपुर से दोनों को पकड़ लिया। पुलिस गिरोह में शामिल अन्य बदमाशों की तलाश कर रही है।

Vikram Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned