आग की ऐसी तस्वीरें देख चकरा गए वनविभाग के अधिकारी भी! असलियत होश फाख्ता कर देगी

Seeing such photos of the fire, the forest department were shocked

आमतौर पर ये तस्वीरें डराने के लिए पर्याप्त होती हैं। यकायक से यह सूचना आग की तरह फैल गई।

By: Gaurav

Updated: 03 Mar 2021, 06:33 PM IST

Seeing such photos of the fire, the forest department were shocked

-सडक़ किनारे लगी आग
-आनन-फानन में पहुंची वन विभाग की टीम
सीकर. आपने ऐसी तस्वीरें टेलीविजन पर जरूर देखी होंगी। कई देशों में कई कई दिनों तक ऐसी तस्वीरें देखी जाती हैं। जहां वन क्षेत्र या फिर कोई ज्वालामुखी सुलगता रहता है। मंगलवार को ऐसी तस्वीर राजस्थान के सीकर जिले में देखी गईं तो सभी के होश फाख्ता हो गए।
आनन फानन में वन विभाग को सूचना की गई। वन विभाग (forest dept.) के आला अधिकारी व वनकर्मी अपने अपने संसाधनों के साथ मौके पर पहुंचे तो मामला कुछ अलग निकला।


दरअसल सीकर (sikar) जिले के अजीतगढ कस्बे में शाहपुरा सडक़ पर स्थित घाराजी धाम चढ़ाई पर मंगलवार दोपहर 2:30 बजे सडक़ किनारे पड़े कचरे में आग लग गई। बस फिर क्या था दूर से पहाड़ी पर लगी आग को देख ग्रामीणों ने इसे कोई बड़ी परेशानी समझ सरकारी महकमे को फोन खटखटाने शुरू कर दिए। एक बार को उधर से गुजरने वाले वाहन चालकों ने मौके से दूरी बना ली व ग्रामीणों को भी जानकारी दी।


कुछ देर में ही वन विभाग में सूचना आग की तरह फेल गई। घटना स्थल के निकट जो वनकर्मी थे उन्हें तुरंत बताया गया तो वन विभाग के वन कर्मी महेश मीणा एवं झाबरमल सूचना पर तुरंत मौके पर पहुंचे।


देखा तो मामला बिल्कुल अलग था। यह कोई बड़ी आग की घटना नहीं थी। आग वन भूमि में नहीं लगी थी बल्कि सडक़ किनारे पड़े कचरे में लगी थी।


फिर क्या था। वनकर्मियों ने महकमे को सूचना दी और विभाग ने चेन की सांस ली। इसके बाद आग को बुझाने का सिलसिला शुरू हुआ। हाथों हाथ पानी के टैंकर मंगवाने के लिए फोन किए गए। कुछ ही देर में पानी के टैंकर मंगवाकर 1 घंटे में आग पर काबू पाया गया। इसके बाद से घाटी में वाहनों की आजावाही शुरू हो सकी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned