दो अक्टूबर को खुलेगा स्वच्छ सर्वेक्षण का पिटारा

दो अक्टूबर को खुलेगा स्वच्छ सर्वेक्षण का पिटारा

Mahesh Parbat | Publish: Sep, 05 2018 09:39:45 AM (IST) | Updated: Sep, 05 2018 09:39:46 AM (IST) Sirohi, Rajasthan, India

ग्रामीण क्षेत्र में सर्वे


सिरोही. ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 का कार्य पूरा हो गया है। दिल्ली से आई टीम ने जिले के गांंवों का सर्वे कर यहां मिले फीडबैक के आधार पर अपनी रिपोर्ट ऑनलाइन भेज दी है। अब 2 अक्टूबर को पता चलेगा कि जिले की रैंकिंग क्या है और कितना साफ है। सर्वेक्षण के तहत जिले के ७ गांवों का चयन किया गया है। टीम ने जिले के गांवों का निरीक्षण कर व्यक्तिगत व सार्वजनिक शौचालय की वस्तुस्थिति को देखा। टीम ने यह देखा कि जिन शौचालय का कागजों में निर्माण हुआ है, वहां पर हकीकत में शौचालय बने हैं या नहीं। टीम ने 100 अंकों के आधार पर अलग-अलग स्थिति के नम्बर दिए। एक माह तक चला सर्वेक्षण 31 अगस्त को पूरा हो गया है। टीम ने अपनी रिपोर्ट पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय भारत सरकार को भेज दी है।
ग्रामीणों से की चर्चा
टीम ने लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने के लिए ऑनलाइन मोबाइल एप से भी फीडबैक लिया। टीम ने सार्वजनिक जगह पर बने शौचालय की साफ.-सफाई हाट बाजार, विद्यालयों की स्थिति आदि का निरीक्षण कर ग्रामीणों से स्वच्छ सर्वेक्षण के बारे में चर्चा की।
इन गांवों का चयन
स्वच्छ सर्वेक्षण में जिले के ७ गांवों को चयनित कर लिया गया है। जिसमें सिरोही पंचायत समिति के बरलूट, रेवदर के गुंदवाड़ा तथा अवाड़ा, आबूरोड के चंडेला तथा उपलीबोर, पिण्डवाड़ा के कोदरला तथा रोहिड़ा का चयन किया गया है।
१४ हजार ने दिया फीडबैक
टीम ने सिटीजन फीडबैक के लिए ग्रामीणों को स्वच्छता सर्वेक्षण संबंध के बारे में जानकारी दी। जिला कलक्टर ने सभी को स्वच्छता सर्वेक्षण में मोबाइल एप के माध्यम से जागरूक करने के निर्देश दिए थे। जिसके चलते जिले में मोबाइल एप से करीब १४ हजार से अधिक लोगों ने फीडबैक दिया।
इनका कहना है...
&जिले में लोगों ने मोबाइल एप के माध्यम से फीडबैक दिया है। इसका सरकार स्तर पर विश्लेषण किया जाएगा। २ अक्टूबर को सर्वेक्षण का पता चलेगा।
चांदू खां, समन्वयक, जिला स्वच्छता अभियान, सिरोही

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned