आकस्मिक निरीक्षण में खुली पोल: वाइब्रेट मशीन की जगह लकड़ी के टुकड़े से समतलीकरण

आकस्मिक निरीक्षण में खुली पोल: वाइब्रेट मशीन की जगह लकड़ी के टुकड़े से समतलीकरण

Bharat Kumar Prajapat | Updated: 04 Jun 2019, 09:10:02 PM (IST) Sirohi, Sirohi, Rajasthan, India

आकस्मिक निरीक्षण में निर्माण की खुली पोल, कार्य रुकवाया

भरत कुमार प्रजापत
सिरोही.
मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी लक्ष्मी देवी ने मंगलवार को तेलपुर, नया सानवाड़ा व उन्द्रा स्कूल में निर्माण कार्य का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान कईगंभीर अनियमिताएं पाई गईं। समग्र शिक्षा अभियान की ओर से स्कूलों में कक्षा-कक्ष का कार्य चल रहा है। ठेकेदार की ओर से घटिया सामग्री व शर्तों के मुताबित कार्य नहीं होने से विद्यार्थियों के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है।
मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि तेलपुर के स्कूल में सात कमरों का काम चल रहा है। वर्तमान में पांच कमरों का कार्य बंद है जिसका ठेकेदार दूसरा है। वहीं मौके पर दो कमरों का काम शुरू था। इसमें डीपीसी का कार्यसही नहीं हो रहा था। वाइबे्रट मशीन की जगह लकड़ी से समतलीकरण किया जा रहा था। इस संबंध में ठेकेदार मशीन के लिए बहाना बनाता रहा लेकिन मौके पर नहीं मिली। ऐसे में नींव कमजोर होने से कमरा कभी भी गिर सकता है। लक्ष्मी देवी ने मौके पर ही जेईएन गढ़वी, एईएन रघु रावल को दूरभाष पर फटकार लगाकर एडीपीसीओ को अवगत करवाया। निर्माण कार्य रुकवाने व भुगतान रोकने के आदेश दिए। एक कमरे के लिए करीब सात लाख रुपए स्वीकृत हुए हैं।
उधर, राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय नया सानवाड़ा में सात कमरों की नींव भराई का कार्य चल रहा है। मंगलवार को कार्य बंद था। प्रधानाचार्य मुकेश शर्मा ने बताया कि ठेकेदार बदलने से कार्य बंद है।
इसके बाद उन्द्रा स्कूल का भी निरीक्षण किया गया। इसमें तीन कमरों का कार्य निर्माणाधीन है। छत भराई हो गई है लेकिन तराई नहीं की जा रही है। तीन कमरों की नींव भर दी गई है। यहां कार्य की गुणवत्ता सही नहीं मिली। निरीक्षण के दौरान सहायक निदेशक मूलशंकर मेघवाल, खुशाल कुमार आदि मौजूद थे।

जिम्मेदार बोले....
ऐसा मामला है तो संबंधित जेईएन व एईएन को मौके पर भेजकर मालूम करवाते हैं।
- अमरसिंह, एडीपीसीओ, समग्र शिक्षा अभियान, सिरोही

काम सही चल रहा है, कोई कमी नहीं है। दबाव बनाने के लिए ऐसा किया जा रहा है।
- भरत खण्डेलवाल, ठेकेदार

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned