पूर्व सांसद कैलाशनाथ सिंह यादव, विधायक सुनील यादव इस मामले में बढ़ी मुसीबत

2017 में लिखा गया था मुकदमा।

सोनभद्र. यूपी के सोनभद्र में सैकड़ों बीघे जमीन पर कब्जा करने के मामले में पूर्व सांसद कैलाशनाथ सिंह यादव और पूर्व विधायक सुनील यादव कोर्ट में पेश हुए। 2017 में इनके खिलाफ यह मुकदमा लिखा गया, जबकि पूर्व सांसद और विधायक का दावा है कि पूरा मामला झूठा है और उन्हें राजनीति के चलते फंसाया जा रहा है।

बहुजन समाज पार्टी के चंदौली से पूर्व सांसद और विधायक सुनील यादव के खिलाफ 2017 में वन विभाग की सैकड़ों बीघे जमीन पर कब्जा करने के मामले में एसडीएम की इजाजत के बाद वन विभाग की ओर से मुकदमा दर्ज कराया गया था। मामला चूंकि पूर्व सांसद और विधायक से संबंधित है इसलिये इसे एमपीएमएलए स्पेशल कोर्ट को ट्रांसफर कर दिया गया।

इसी मामले में सुनवायी के लिये मंगलवार को कैलाशनाथ सिंह यादव और सुनील यादव सोनभद्र के सीजेएम कोर्ट पहुंचे। इस दौरान पूर्व सांसद ने पूरे मामले को राजनीति से प्रेरित बताया। उन्होंने दावा किया कि जिस जमीन पर कब्जे की बात कही जा रही है वह उनकी जोत-कोड़ (खेती की जमीन) रही है। उन्होंने पूरे मामले को झूठा करार देते हुए राजनीतिक द्वेष के तहत की जा रही कार्रवाई करार दिया।

By Santosh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned