पूर्व डीएम अंकित अग्रवाल के छूटे पसीने, जानिए कैसे

पूर्व डीएम अंकित अग्रवाल के छूटे पसीने, जानिए कैसे
Ankit agrawal

Sarweshwari Mishra | Updated: 11 Oct 2019, 12:32:35 PM (IST) Sonbhadra, Sonbhadra, Uttar Pradesh, India

सोनभद्र में नरसंहार की घटना के समय अंकित अग्रवाल डीएम के पद पर तैनात थे

सोनभद्र. यूपी के सोनभद्र नरसंहार कांड में जमीन विवाद की जांच कर रहे विशेष जांच दल एसआईटी ने 2012 बैच के आइएएस अधिकारी अंकित अग्रवाल से करीब तीन घंटे तक पूछताछ की। सोनभद्र में नरसंहार की घटना के समय अंकित अग्रवाल डीएम के पद पर तैनात थे। घटना के बाद उन्हें पद से हटाया गया था। एसआइटी ने तत्कालीन डीएम अंकित अग्रवाल के बयान दर्ज कर लिए हैं।


एसआईटी इसी सप्ताह अंकित अग्रवाल से पहले सोनभद्र डीएम के पद पर तैनात रहे अमित कुमार सिंह से भी पूछताछ की तैयारी कर रही है। उन्हें भी नोटिस देकर तलब किया गया है। सोनभद्र में अंकित अग्रवाल फरवरी 2019 से जुलाई 2019 के मध्य डीएम के पद पर तैनात थे। उल्लेखनीय है कि 17 जुलाई को विवादित जमीन पर कब्जे को लेकर खूनी संघर्ष हुआ था।


बताया गया कि 11 पीड़ितों ने जमीन पर कब्जे को लेकर जो अपील की थी। उसे तत्कालीन डीएम अंकित अग्रवाल ने ही खारिज किया था। एसआइटी ने अंकित अग्रवाल से पूछताछ के दौरान जानने का प्रयास किया कि उन्होंने किस आधार पर पीड़ित पक्ष की अपील को खारिज किया था। इसे लेकर उनसे सिलसिलेवार पूछताछ की गई और सम्बंधित नियम व दस्तावेजों के बारे में जानकारी की गई।


अंकित अग्रवाल से पहले अमित कुमार सिंह सोनभद्र के डीएम थे। बताया कि अमित कुमार सिंह के कार्यकाल में ग्राम प्रधान के पक्ष में विवादित जमीन पर कब्जे की रिपोर्ट दी गई थी। एसआइटी उनसे पूछताछ की तैयारी कर रही है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned