यहां चाकू तो ऐसे मार देते हैं मानो सब्जी काट रहे हों

जबलपुर शहर में अपराध पर लगाम लगाना शायद भूल ही गई है पुलिस

By: shyam bihari

Updated: 02 Mar 2019, 08:13 PM IST

जबलपुर। आमतौर पर 'शांत और 'संस्कारी दिखने वाला जबलपुर शहर असल में अपराध रूपी बारूद के ढेर पर बैठा नजर आ रहा है। बात-बात पर चाकू मार देना तो यहां बच्चों का खेल हो गया है। कई घटनाओं में बदमाश समाने वाले पर चाकू ऐसे चला देते हैं, जैसे सब्जी विक्रेता ककड़ी छील रहा हो। नशे की हालत में बीच सड़क झूमते युवकों का झुंड इस बात पर मुहर लगाता है कि पुलिस को अपराधों पर नियंत्रण वाली बात याद ही नहीं है। कई मायनों में जबलपुर शहर पूरे प्रदेश में महत्वपूर्ण है। यहां शिक्षा, सुरक्षा, पर्यटन और संस्कृति के लिहाज से समाज, प्रदेश, देश को प्रभावति करने वाली बातें समाहित हैं। सुरक्षा संस्थानों पर पूरे देश की नजर रहती है। प्रचान मंदिरों की पूरी श्रृंखला है। मां नर्मदा का किनारा है। वहां कई संतों के मठ-मंदिर हैं। आधा दर्जन विश्वविद्यालयों के साथ सभी क्षेत्रों के शानदार महाविद्यालय वर्षों से चल रहे हैं। इन अर्थों में शहर में अपराध का सिलसिला चलते रहना कई सवाल खड़े करता है। चिंता की बात इससे ज्यादा है। अपराध का स्वरूप कू्ररतम श्रेणी में माना जा सकता है। कितना वीभत्स दृश्य होगा, जब एक सड़क छाप गुंडा दिव्यांग पर चाकू से इतने वार करता है कि वह चीख-चीखकर दम तोड़ देता है।

बदमाशों में वहशीपना इतना ज्यादा आता जा रहा है कि शायद उन्हें चीख-पुकार में भी मजा आने लगा है। यह स्थिति तो जंगल वाले कानून में भी शायद ही मिलती हो। जबलपुर तो संस्कारधानी भी कहा जाता है। यहां पूरे साल धार्मिक आयोजनों की बहार रहती है। धार्मिक अनुष्ठान गली-मोहल्लों में होते ही रहते हैं। भागमभाग की जिंदगी जीने वाला भी रोज नर्मदा तट पर जरूर पहुंचता है। इन अर्थों में आखिर लोगों में आपराधिक प्रवृत्ति आ कहां से रही है? चलो मान लें कि समाज के बिगड़े तबके की सोच पर पुलिस का पहरा नहीं लगाया जा सकता। लेकिन, अपराधियों में कानून का खौफ नहीं है, इसके लिए तो सिर्फ और सिर्फ ही जिम्मेदार है। पुलिस को देखकर अपराधियों की रूह न कांप जाए, तो मानना पड़ता है कि कुछ तो गड़बड़ है।इस गड़बड़ी को पुलिस ने दूर नहीं किया तो हालात हाहाकरी होते जाएंगे।

shyam bihari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned