Tokyo Olympic 2021 से पहले भारतीय घुड़सवार ने बदला अपना घोड़ा

Tokyo Olympic 2021 से पहले भारतीय घुड़सवार फवाद मिर्ज़ा ने अपना घोड़ा बदल लिया है। जानिए आखिर क्या वजह रही जो उन्होंने यह फैसला लिया।

By: Braj mohan Jangid

Updated: 22 Jul 2021, 01:53 PM IST

नई दिल्ली। खेलों के महाकुम्भ ओलंपिक ( Tokyo Olympic 2021 ) की शुरुआत 23 जुलाई से 8 अगस्त के बीच जापान की राजधानी टोक्यो में होने वाली हैं। इसमें कई भारतीय खिलाड़ी भी शिरकत करने वाले हैं। ये कुछ दिन पहले ही भरत से जापान के लिए रवाना हो चुके हैं। उम्मीद है कि इस बार भारत का प्रदर्शन बेहतर होगा और कई खिलाडी मेडल जीतने में कामयाब होंगे। इन्हीं खिलाड़ियों में से एक घुड़सवार फवाद मिर्ज़ा ओलंपिक से पहले ही सुर्ख़ियों में आ गए हैं। इसकी वजह बना है ओलंपिक से चंद रोज पहले ही फवाद मिर्ज़ा का अपना घोड़ा बदलने का फैसला।

Read more :- उलझन में भारतीय घुड़सवार फवाद मिर्जा, ओलंपिक में कौन सा घोड़ा लेकर जाएं

कौन हैं फवाद मिर्ज़ाः

बेंगलुरु में जन्मे 29 वर्षीय फवाद मिर्जा एक भारतीय घुड़सवार हैं। वह पहली बार किसी ओलंपिक में शिरकत करने वाले हैं। बता दें कि ओलंपिक में 20 बरस बाद कोई भरतीय घुड़सवार शिरकत करने वाला है। फवाद मिर्जा 2018 के एशियाई खेलों में दो रजत पदक विजेता भी रह चुके हैं। एशियाई खेलों में फवाद मिर्जा ने सेगनुएर मेडिकोट नाम के एक घोड़े को प्राथमिकता दी थी। लेकिन ओलंपिक के लिए क्वालीफाई होने के बाद में फवाद मिर्जा ने दूसरे घोड़े के साथ टोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympic) में जाने का मन बना लिया था।

किस घोड़े के साथ उतरेंगे ओलंपिक (Olympic) में?

सेगनुएर मेडिकोट घोड़े के साथ एशियाई खेलों में दो रजत पदक जीतने के बावजूद फवाद मिर्जा ने इसे बदलने की बात कही थी और ' दजारा 4' नाम के घोड़े के साथ ओलंपिक में शिरकत की घोषणा की थी। लेकिन अब चंद रोज पहले ही फवाद मिर्जा ने वापस घोषणा की है कि वो सेगुनएर मेडिकोट के साथ ही ओलंपिक में उतरेंगे। उन्होंने बताया कि से सेगुनएर मेडिकोट के साथ उनका एक भावनात्मक जुड़ाव है। जिस वजह से वह इसकी घोड़े के साथ ओलंपिक में उतरेंगे। बाहर आई खबरों के अनुसार 'सेगुनएर मेडिकोट' अब तक जर्मनी में था। जहां उसने अपना आइसोलेशन पूरा कर लिया है और 20 जुलाई की रात को टोक्यो के लिए रवाना हो गया है।

Read more :- ओलंपिक के दौरान रोजाना होंगे 80,000 कोविड टेस्ट

आपको बता दें कि भारतीय घुड़सवार फवाद मिर्जा 29 जुलाई से ओलंपिक में अपना अभियान शुरू करने वाले हैं। जिनसे भारत को पदक की उम्मीद है। अब यह देखने वाली बात होगी कि वह उम्मीदों पर खरे उतरते हैं या नहीं।

Braj mohan Jangid
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned