scriptIllness warned, yet government move | SriGanganagar बीमारी ने किया खबरदार, फिर भी सरकारी चाल | Patrika News

SriGanganagar बीमारी ने किया खबरदार, फिर भी सरकारी चाल

locationश्री गंगानगरPublished: Sep 17, 2022 09:12:35 pm

Submitted by:

surender ojha

Illness warned, yet government move- बढ़ा डेगूं का प्रकोप: नगर परिषद की फोगिंग मशीनें भी ताले में बंद

SriGanganagar बीमारी ने किया खबरदार, फिर भी सरकारी चाल
SriGanganagar बीमारी ने किया खबरदार, फिर भी सरकारी चाल
श्रीगंगानगर। इलाके में मौसमी बीमारियों ने गांव-शहर को घेर लिया है। बच्चे बुखार से तपने लगे है। वायरल और डेंगू ने फिक्र बढ़ा दी है। अच्छी बारिश के बाद हरियाली छाने से मच्छरों की भरमार हो गई है और मच्छरों के लार्वा मारने के लिए गांव तो दूर जिला मुख्यालय पर भी फोगिंग ताले में बंद है। डीडीटी का छिड़काव बंद है और नगर परिषद की ओर से फोगिंग की प्रक्रिया शुभ मुहूर्त का इंतजार कर रही है। इस बीच, प्राइवेट हॉस्टिपल में तो डेगूं पॉजीटिव की कार्ड से जांच कर भयभीत करने की कवायद चल रही है, इस भय से लोगों को मजबूरन मोटी रकम खर्च करनी पड़ रही है। हालांकि सरकारी रेकार्ड में डेगूं पॉजीटिव की संख्या महज 27 बताई जा रही है। स्वास्थ्य विभाग की आशा सहयोगिनों को डेगूं प्रभावित क्षेत्र में सर्वे कराकर एंटी लार्वा डलवाई जा रही है और लोगों को जागरूक किया जा रहा है।
इधर, मच्छरों के प्रकोप से जिलेभर में न केवल नींद उड़ाई है अब बीमारी का घर बन गई है। दीपावली तक यानि करीब दो महीने तक मच्छरों के लिए मौसम अनुकूूल रहने की स्थिति है और इन पर फोगिंग या अन्य छिड़काव से वार नहीं हुआ तो बीमारी का ग्राफ अनियंत्रित होते देर नहीं लगेगी। वायरल, मलेरिया और डेंगू तीनों की जकडऩ हर घर के लिए चिंता बनने लगी है। सीएचसी-पीएचसी पर ही ओपीडी का आंकड़ा औसतन चार सौ के बीच पहुंच गया है।
सितंबर के पहले सप्ताह के मुकाबले दूसरा दोगुना हो चुका है। जिला अस्पताल में ओपीडी रोजाना करीब दो हजार के आसपास है। जिले में बेकाबू होती बीमारियों पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से नियंत्रण के प्रयास नाकाफी है। हालांकि स्वास्थ्य महकमें ने अभी प्लान बनाया है, जिसे कुछ दिन बाद शुरू किया जाएगा।
इधर, इलाके में डेंगू का असर बढ़ रहा है। अस्पताल में सामान्य दिनों के मुकाबले ओपीडी लगातार बढ़ रही है। रोजाना डेंगू के केस आ रहे है। इलाकों में बीमार बढ़े है। बच्चे भी बुखार की चपेट में आ रहे है। डेगूं के अब तक 27 रोगी आ चुके है। इसमें सत्रह रोगी तो अकेले पुरानी आबादी के चांदनी चौक और रवि चौक एरिया के है। वहीं प्राइवेट नर्सिग होम्स और क्लीनिक पर डेगूं की रोगियों की एक सौ से अधिक हो चुकी है लेकिन इसकी पुष्टि जानबूझकर नहीं की जा रही है।
इसके बावजूद नगर परिषद ने डेंगू नियंत्रण को लेकर फॉगिंग तक शुरू नहीं की है। नगर परिषद की चार छोटी और एक बड़ी फोगिंग मशीनें है। लेकिन पांचों मशीन नगर परिषद प्रशासन ने बाहर निकलवाने की बजाय गोदाम में रखवाई हुई है।
इस बीच डिप्टी सीएमएचओ डा.करण आर्य ने बताया कि प्राइवेट हॉस्पिटल में सिर्फ कार्ड से डेगूं की जांच हो रही है, इस जांच की मान्यता नहीं है। इस संबंध में जल्द सख्त कार्रवाई के लिए आदेश जारी किए जाएंगे। जिन इलाकों में डेगूं की पुष्टि हुई है, उन एरिया में फोगिंग की जा रही है और घर घर सर्वे भी चल रहा है। यह सही है कि बरसाती दौर के बाद वायरल बुखार की संख्या बढ़ी है। अब हर स्तर पर चौकसी और सर्वे का काम तेज गति से किया जाएगा।
इस बीच, नगर परिषद आयुक्त गुरदीप सिंह ने स्वीकारा कि इलाके में वायरल बुखार और डेगूं का प्रकोप है। इस संबंध में जल्द ही मच्छरमार दवा का छिड़काव शुरू कराया जाएगा। इसके लिए स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश भी जारी कर दिए है्। मच्छरमार दवाईयां पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। फोगिंग मशीनें भी तैयार हो चुकी है।

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

'गद्दार' विवाद के बाद पहली बार गहलोत और पायलट का हुआ आमना-सामना, देखें वीडियोगुजरात चुनाव में भाजपा के सबसे अधिक उम्मीदवार हैं करोड़पति, दूसरे पर कांग्रेसआरबीआई एक दिसंबर को लॉन्च करेगा रिटेल डिजिटल रुपयासरकारी कार्यक्रम में भड़कीं ममता बनर्जी, भाषण बीच में रोक अधिकारियों को लगाई फटकारआफताब 1 दिसम्बर को उगलेगा सच, नार्को टेस्ट के लिए दिल्ली पुलिस को मिली मंजूरी'द कश्मीर फाइल्स' को IFFI ज्यूरी ने बताया 'वल्गर प्रोपगंडा', अनुपम खेर ने कहा-' शर्मनाक'सोनिया गांधी के कहने पर कांग्रेस अध्यक्ष खरगे ने पीएम मोदी को कहा रावण : संबित पात्राबिहारः हेडमास्टर को देख भागे रेपिस्ट, फिर मास्टर बना हैवान, लूट ली नाबालिग बच्ची की इज्जत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.