Video: मोबाइल टावर लगाने का विरोध, एक बार काम रुकवाया

श्रीगंगानगर. शहर की राणाप्रताप कॉलोनी व वार्ड नंबर 34 की पार्षद मीना सोनी के तीन घर पर नंबर मकान पर अवैध रूप से मोबाइल टावर लगाने पर विवाद बना हुआ है।

By: pawan uppal

Published: 22 Aug 2017, 07:24 AM IST

श्रीगंगानगर. शहर की राणाप्रताप कॉलोनी व वार्ड नंबर 34 की पार्षद मीना सोनी के तीन घर पर नंबर मकान पर अवैध रूप से मोबाइल टावर लगाने पर विवाद बना हुआ है। कॉलोनी के लोग पिछले चार दिन से टावर लगाने का विरोध कर रहे हैं और सोमवार को कॉलोनी के लोग नगर परिषद आयुक्त सुनीता चौधरी कार्यालय के बाहर धरना लगाकर विरोध-प्रदर्शन किया है। इस बीच पार्षद सोनी के खिलाफ नारेबाजी करते हुए विरोध-प्रदर्शन किया गया। हालांकि आयुक्त कार्यालय में नहीं थी। इस कारण कार्यवाहक आयुक्त मंगत सेतिया का घेराव कर इनको खूब खरी-खौटी सुनवाई गई।

 

Video: दिखने लगा चुनावी जोश, करीब एक घंटे तक विद्यार्थी करते रहे हुड़दंग

 

कॉलोनी के गोपाल सिंघल, राजीव खैतान, शशि कुमार,राजेश राठी,सुरेंद्र कुमार,सोहन लाल मिढ्ढा,राजन कुमार,विमलादेवी, कलावती शर्मा,आरपी वार्मा,शशि गुप्ता सहित ने कहा सतिया से कहा कि आपने बिना सर्वे करवाए, कॉलोनी में टावर लगाने की अनुमति कैसे दे दी गई? कॉलोनी के लोगों ने आरोप लगाया कि नगर परिषद ने मोबाइल टावर लगाने की एनओसी जारी की गई है? उल्लेखनीय है कि रविवार को भी मोबाइल टावर लगाने का कार्य शुरू किया तो कॉलोनी के लोग एकत्रित हो गए और इसका विरोध करने लगे। इसको लेकर रविवार को मौका पर पुलिस तक पहुंच गई थी। कालोनी के लोग और पार्षद पुत्र चेतन सोनी के साथ कहासुनी तक हुई थी। महिलाओं ने टावर लगाने का विरोध किया था। टावर से फैलता है

रेडिएशन

कॉलोनी के लोगों ने बताया कि मोबाइल टॉवर लगाने से रेडिएशन पैदा होने से बीमारियां फैलने की आशंका है। टॉवर लगाने के साथ लगाने वाले जनरेटर के कारण शौर व वायु प्रदूषण होगा। मकान की ऊंचाई ज्यादा होने के कारण आंधी-तूफान के दौरान टावर गिरने की आंशाका बनी रहती है। इस संबंध में पूर्व में ज्ञापन दिया गया है लेकिन पार्षद पुत्र की ओर से बार-बार विवाद की स्थिति पैदा की जा रही है। इस कारण पुलिस भी तीन बार मोहल्ले में आ चुकी है। पार्षद कंपनी प्रतिनिधि जबरन टावर लगाना चाहते हैं कि जबकि कॉलोनी के लोग इसका विरोध-प्रदर्शन किया जा रहा है।

एनओसी पर उठाए सवाल

कॉलोनी के लोगों का कहना है कि नगर परिषद प्रशासन ने कथित तौर पर अनापत्ति-प्रमाण पत्र जारी किया है,जबकि टावर लगाने वाली जगह नियम-कायदों पर खरी नहीं उतर रही है। 50 मीटर के दायरे में मीडिल स्कूल है,जिस गली में टावर लगाया जा रहा है वह मात्र 15 फीट की है। कॉलोनी के लोगों ने आरोप लगाया है कि यूआईटी में रिश्वत लेकर टावर लगाने की अनुमति दी जा रही है। ज्ञापन में संबंधित गर परिषद अधिकारियों व कर्मचारियों की उच्च स्तरीय जांच कर कार्रवाई की जाए।

इनका कहना है

नगर परिषद से अनुमति लेकर मोबाइल टावर लगाया जा रहा है। कॉलोनी के लोगों ने इसका विरोध किया तो एक बार टावर लगाने का कार्य रोक दिया है। टावर से किसी प्रकार का रेडिएशन का खतारा नहीं है। चेतन सोनी (पार्षद मीना सोनी का पुत्र)। शहर के वार्ड नंबर 34 की राणाप्रताप कॉलोनी में नियमानुसार नगर परिषद ने टावर लगाने की अनुमति दी है। कॉलोनी के लोगों ने विरोध किया है, एक बार काम रुकवा दिया है,आयुक्त आने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। मंगत सेतिया,कार्यवाहक आयुक्त, नगर परिषद, श्रीगंगानगर।

Show More
pawan uppal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned