जरुरतमंदों का मिली राहत पर राज्य के बाहर के डिपो होल्डरों की नजर

-जिला रसद अधिकारी ने शिकायतें मिलने के बाद की कार्रवाई,संबंधित डीसीओ को लिखा पत्र
-कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए पॉश मश्ीन पर अंगूठा लगवाना बंद
-ओटीपी से गरीबों को राशन वितरण करने की व्यवस्था

By: Krishan chauhan

Published: 04 Apr 2020, 08:09 AM IST

जरुरतमंदों का मिली राहत पर राज्य के बाहर के डिपो होल्डरों की नजर
-जिला रसद अधिकारी ने शिकायतें मिलने के बाद की कार्रवाई,संबंधित डीसीओ को लिखा पत्र
-कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए पॉश मश्ीन पर अंगूठा लगवाना बंद
-ओटीपी से गरीबों को राशन वितरण करने की व्यवस्था
पत्रिका एक्सक्लूसिव कृष्ण चौहान
श्रीगंगानगर.कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से देश भर में 21 दिन का लॉकडाउन है। इसको देखते हुए राज्य सरकार ने गरीब परिवारों को राहत देते हुए दो माह के लिए नि:शुल्क गेहूं देने की घोषणा की है। वहीं उचित मूल्य दुकानदार इस महामारी के संकट में चोरी बाजारी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। राशन डीलर गरीबों के हक का गेहूं फर्जी तरीक से हजम कर रहे हैं। पॉश मशीनों पर लाभार्थी का अंगूठा लगाने वाली प्रक्रिया के बंद होने पर राशन डीलर इसका फायदा उठा रहे हैं। बिना ओटीपी एक जिले के लाभार्थी के हिस्से का दूसरे जिले में राशन डीलर गेहूं उठा रहे हैं। इस तरह की शिकायतें जिला रसद अधिकारी को मिली है। विभाग अब इन पर कार्रवाई करेंगा।
यूं की जा रही है गड़बड़ी--कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से पॉश मशीन से राशन देने की व्यवस्था को कुछ समय के लिए रोक लगाई गई है। पॉश मशीन को रोककर ओटीपी के माध्यम से राशन देने की व्यवस्था की गई है। जिससे लाभार्थी के मोबाइल नंबर पर ओटीपी भेजा जा रहा है। ओटीपी राशन डीलर नोट करके राशन देगा लेकिन खाद्य सुरक्षा सूची में शामिल काफी लाभार्थियों ने अपने मोबाइल नंबर बदल लिए हैं तो कई के बंद हो चुके हैं और कई उपभोक्ताओं के तकनीकी खामी की वजह से ओटीपी नहीं आ रही है। इसका फायदा उठाकर कई राशन डीलर गरीबों के हिस्से का गेहूं हजम कर रहे हैं।
दो माह का नि:शुल्क गेहूं
राज्य सरकार ने संकटकाल को देखते हुए खाद्य सुरक्षा सूची में शामिल पांच करोड़ों को दो माह का गेहूं नि:शुल्क देने की घोषणा की है। लाभार्थियों को अपेल व मई माह का गेहूं नि:शुल्क दिया जा रहा है।
फैक्ट फाइल
जिले की स्थिति
खाद्य सुरक्षा सूची में शामिल कुल लोग-3,09,566
बीपीएल राशन कार्ड-80,737
स्टेट बीपीएल राशन कार्ड-9915
अन्त्योदय राशन कार्ड-12627
बीपीएल व अन्त्योदय व स्टेटे बीपीएल के कुल लाभार्थी-4,26,937
एपीएल लाभार्थी-42,573
राज्य की स्थिति
खाद्य सुरक्षा सूची में शामिल कुल लोग-4.99 करोड़
बीपीएल राशन कार्ड-23.86 लाख
स्टेट बीपीएल राशन कार्ड-6.04 लाख
अन्त्योदय राशन कार्ड-6.61 लाख
बीपीएल व अन्त्योदय के कुल लाभार्थी-1.72 करोड़
एपीएल लाभार्थी-3.27 करोड़
-एक से 15 अप्रेल तक उपभोक्ता पखवाड़ा चल रहा है। कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए इस बार बिना पॉश मशीनों के सीधे ओटीपी से राशन का वितरण किया जा रहा है। किसी उपभोक्ता का राशन उठाने की शिकायत मिली है। इस पर कार्रवाई की जाएगी।
राकेश सोनी, जिला रसद अधिकारी, श्रीगंगानगर।

Krishan chauhan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned