दो हजार किसान कतार में

pawan uppal

Publish: May, 18 2018 08:01:57 AM (IST)

Sri Ganganagar, Rajasthan, India
दो हजार किसान कतार में

-विभाग को 685 सोलर पंपसेट लगाने का लक्ष्य

-ऑनलाइन आवेदन के बाद आगे की प्रक्रिया शुरू

 

श्रीगंगानगर.

वर्ष 2017-18 और 2018-19 के लिए उद्यान विभाग की ओर से संचालित सौर ऊर्जा आधारित पम्प परियोजना में जिले को आवंटित लक्ष्यों के मुकाबले काफी अधिक आवेदन मिले हैं। दो वर्ष में सोलर पम्पसेट लगाने के लिए श्रीगंगानगर के 1934 किसान कतार में हैं।


जिले में किसानों को तीन और पांच एचपी के 685 सोलर पंपसेट लगाने का लक्ष्य आवंटित किया गया है। इसके लिए उद्यान विभाग ने जिले के किसानों से ऑनलाइन आवेदन मांगे थे। आवेदन प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद अब वरीयता के आधार पर संबंधित किसानों से कोटेशन मांगी गई है। इसके बाद अब प्रशासनिक स्वीकृति जारी कर उद्यान विभाग संबंधित किसानों से कृषक हिस्सा राशि जमा करवाकर सोलर पंपसेट लगाने को लेकर संबंधित कंपनी को निर्देशित करेगा। सब कुछ निर्धारित कैलेंडर के तहत हुआ तो आने वाले एक महीने में किसानों के खेतों में सोलर पंपसेट संचालित होने लगेंगे।


उद्यान विभाग के सहायक निदेशक केशव कालीराणा ने बताया कि श्रीगंगानगर जिले में 2017-18 में सोलर पंपसेट नहीं लगाए गए थे। ऐसे में दो वर्षों के टारगेट को जोड़कर इस बार पंपसेट किसानों का दिए जाएंगे। वहीं जून से नवंबर 2017 तक सोलर पंपसेट लगाने का काम विद्युत निगम को दिया गया था, वहां किसानों ने ऑफलाइन आवेदन किया था। नवंबर में सोलर लगाने का काम फिर से उद्यान विभाग के पास आ गया है ऐसे में ऑफलाइन आवेदन की पत्रावली मांगी गई है। वो पत्रावली मिलने के साथ ही प्रशासनिक स्वीकृति जारी की जाएगी।


यह अनिवार्यता खत्म
सरकार ने गत दिनों सोलर पम्पसेट लगाने के लिए किसानों से आवेदन के वक्त 10,000 रुपए जमा करवाने की अनिवार्यता समाप्त कर दी थी। जवाहर लाल नेहरु राष्ट्रीय सौर मिशन व राज्य योजना के तहत सोलर पम्पसेट पर अनुदान उपलब्ध करवाने के लिए सरकार ने उद्यान विभाग को विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसमें बताया है कि आवेदन के साथ कृषक हिस्सा राशि के रूप में दस हजार रुपए नहीं लें।

पांच एचपी पंपसेट
जनरल - 60
एससी - 16
एसटी - 12
कुल - 88
तीन एचपी पंपसेट
जनरल - 421
एससी - 103
एसटी - 73
कुल - 597
(उद्यान विभाग को वर्ष 2017-18 और 2018-19 में सोलर पंपसेट लगाने के मिले लक्ष्य)


एक माह में लगेंगे सोलर पंपसेट
ऑनलाइन आवेदन के बाद किसानों को मूल पत्रावली व कोटेशन उद्यान विभाग कार्यालय में जमा करवानी होगी। इसके बाद इन किसानों के नाम प्रशासनिक स्वीकृति जारी कर सोलर पंपसेट लगाने की प्रक्रिया पूर्ण की जाएगी। दो साल के टारगेट के अनुसार विद्युत निगम में आवेदन करने वालों को प्राथमिकता दी जाएगी। एक महीने में सोलर पंपसेट लगकर शुरू होने की उम्मीद है।
केशव कालीराणा, सहायक निदेशक, उद्यान विभाग श्रीगंगानगर।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned