रैकिंग लाने के लिए झोंकी ताकत

पिछले साल की तुलना में बेहतर रैकिंग आने की उम्मीद है।

By: pawan uppal

Published: 04 Jan 2018, 10:10 AM IST

श्रीगंगानगर.

स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 की रैंकिंग करने के लिए गुरुवार सुबह दस बजे शहरी विकास मंत्रालय से अनुबंधित टीम श्रीगंगानगर आ रही है। टीम दस जनवरी तक शहर में रुकेगी और निर्धारित मापदंड के अनुसार शहर का निरीक्षण कर सफाई व्यवस्था का जायजा लेगी। इसके मद्देनजर नगर परिषद और जिला प्रशासन की टीम ने बुधवार को शहर को साफ-सुथरा करने के लिए पूरी ताकत झोंक दी। नगर परिषद के स्थाई, अस्थाई सफाई कर्मचारियों, अधिकारियों की टीम रैकिंग लाने के लिए पूरा प्रयास कर रही है। नगर परिषद आयुक्त का कहना है कि शहर साफ-सुथरा करने के लिए परिषद का अमला रात-दिन मेहनत कर रहा है। पिछले साल की तुलना में बेहतर रैकिंग आने की उम्मीद है।


आमजन को किया जागरुक
उपखंड अधिकारी यशपाल आहुजा की निगरानी में शहर में पांच सेक्टर प्रभारी अधिकारी लगाए गए हैं। सभी अधिकारी दो दिन से संबंधित एरिया में जाकर स्वच्छ भारत मिशन के तहत लोगों को स्वच्छता के बारे में जागरुक कर रहे हैं। उप रजिस्ट्रार सहकारी समितियां बलविंद्र सिंह गिल, आईसीडीपी के आर एस बराड़, नगर परिषद जेईएन अमनदीप कौर व पार्षद रमेश डागला और विद्युत निगम के एक्सईएन केके कस्वां ने एसएसबी रोड सहित उनके क्षेत्र के वार्डों का निरीक्षण किया। परिषद के सहायक अभियंता मंगत सेतिया को शहर में सड़कों पर खड़े पानी और कूड़े-कचरे को हटवाया।


प्रचार में जुटी मोबाइल वैन
नगर परिषद आयुक्त सुनीता चौधरी ने बताया कि बुधवार को शहर में मोबाइल वैन और एलईडी के माध्यम से लोगों को स्वच्छता से संबंधित जानकारी दी गई।


रात को भी सफाई
नगर परिषद ने आखिरी दिन बुधवार को शहर के गोल बाजार सहित अन्य क्षेत्र में रात्रि को दो एक्सेवेटर मशीन लगाकर नालों की सफाई करवाई और कूड़ा-कचरा उठवाया। रात्रि को सफाई के लिए स्वास्थ्य अधिकारी गौतम लाल की टीम जुटी रही।

पेट्रोल पंपों पर बंद शौचालय खुलवाए
श्रीगंगानगर. एसडीएम यशपाल आहूजा ने बुधवार को शहर के विभिन्न हिस्सों में स्थित पेट्रोल पंपों का अचानक निरीक्षण किया। इस दौरान पेट्रोल पंपों पर बंद पाए गए शौचालयों को खुलवाने के भी निर्देश दिए। नियमानुसार पेट्रोल पंपों पर शौचालयों की सुविधा होनी जरूरी है। एसडीएम ने कुछ पेट्रोल पंपों पर बने शौचालयों की भी सफाई करवाने के निर्देश दिए। एक पेट्रोल पंप के शौचालय पर ताला भी पाया गया, जिसे खोलने के निर्देश दिए गए। आहूजा ने नगर परिषद प्रशासन को भी निर्देश दिए कि पेट्रोल पंपों पर बने शौचालय सार्वजनिक उपयोग के लिए हैं। इस तरह की सूचना के बैनर पेट्रोल पंपों पर भी लगाए जाएं।

Show More
pawan uppal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned