गांधी परिवार के बेहद करीब है बब्बर खालसा गिरोह का सदस्य पिंटू तिवारी!

गांधी परिवार के बेहद करीब है बब्बर खालसा गिरोह का सदस्य पिंटू तिवारी!
संदीप तिवारी उर्फ पिंटू तिवारी

Shatrudhan Gupta | Updated: 18 Sep 2017, 08:08:55 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

पिंटू तिवारी प्रदेश कांग्रेस कमेटी में महासचिव हैं और सुल्तानपुर से विधान सभा का चुनाव 2012 में लड़ चुका है।

सुल्तानपुर. पंजाब से खत्म हो चुके बब्बर खालसा गिरोह का नाम एक बार फिर से सुर्खियों में है। वजह भी कोई छोटी मोटी नहीं है। क्योंकि, एटीएस ने जो गिरफ्तारी की है वह बड़ीचौकाने वाली है। शनिवार को उत्तर प्रदेश से तीन लोगों को एटीएस की टीम ने गिरफ्तार किया, जिसमें सबसे बड़ा नाम है संदीप तिवारी उर्फ पिंटू तिवारी का। पिंटू तिवारी प्रदेश कांग्रेस कमेटी में महासचिव हैं और सुल्तानपुर से विधान सभा का चुनाव 2012 में लड़ चुका है। कांग्रेस के दिग्गज नेता कैप्टन सतीश शर्मा के का करीबी है और इन्हीं के सहारे पिंटू ने कांग्रेस में अपनी गहरी पैठ बनाई। अब आतंकी गतिविधियों पिंटू के शामिल होने से कांग्रेस की किरकिरी होनी तय मानी जा रही है।

गांधी परिवार से हैं बेहद नजदीकी, प्रियंका कर चुकी हैं प्रचार
पिंटू तिवारी गांधी परिवार के बेहद करीब हैं और राहुल गांधी के अमेठी दौरे के दौरान अक्सर वह साथ देखे जाते हैं। 2012 के विधान सभा चुनाव में कांग्रेस ने पिंटू तिवारी को सुल्तानपुर की सीट से अपना प्रत्याशी घोषित किया था। हालांकि ये चुनाव पिंटू तिवारी हार गए थे। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी भी पहली बार अमेठी से निकल सुल्तानपुर में पिंटू तिवारी का प्रचार करने पहुंची थीं। यहां प्रियंका ने पिंटू के लिए रोड शो किया था।

छात्र राजनीति से शुरू किया कॅरियर, बना बड़ा नाम
पिंटू तिवारी ने छात्र राजनीति से अपने राजनीतिक कॅरियर की शुरुआत की थी। उन्हीं दिनों कैप्टन सतीश शर्मा से जुड़ाव हुआ। इसके बाद पिंटू तिवारी के संपर्क पूर्व प्रधानमंत्रराजीव गांधी से लेकर राहुल और प्रियंका के साथ बनता चला गया।

कई आपराधिक मुकदमे भी दर्ज हैं पिंटू के नाम
पिंटू तिवारी पर कई आपराधिक मुकदमें भी दर्ज हैं, जिसका खुलासा खुद पिंटू तिवारी ने 2012 के विधान सभा चुनाव में शपथ पत्र में किया था। पिंटू तिवारी ने कांग्रेस के शासन काल मे पेट्रोल पंप भी लिया है।

कहीं राजनीतिक तो नही है पिंटू की गिरफ्तारी
संदीप तिवारी उर्फ पिंटू तिवारी की गिरफ्तारी इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है, लेकिन अचानक हुई गिरफ्तारी और बब्बर खालसा गिरोह से नाम जुडऩे के बाद पिंटू तिवारी के करीबियों को सहसा यकीन नहीं हो रहा है कि पिंटू इतनी बड़ी गतिविधि में शामिल रहे होंगे। फिलहाल एटीएस अब गिरफ्तार लोगों से आगे की पूछताछ करेगी।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned