मेनका गांधी का जागा पशुप्रेम, कैंसर पीड़ित गधे के इलाज के दिए आदेश

मेनका गांधी का जागा पशुप्रेम, कैंसर पीड़ित गधे के इलाज के दिए आदेश

Karishma Lalwani | Updated: 08 May 2019, 04:17:23 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

सुलतानपुर में एक जनसभा को संबोधित करने के दौरान मेनका की नजर एक बीमार गधे पर पड़ी, जिसके पैर से खून बह रहा था

सुलतानपुर. केंद्रीय मंत्री और सुलतानपुर से भाजपा प्रत्याशी मेनका गांधी का एक जनसभा को संबोधित करने के दौरान पशुप्रेम सामने आया। सुलतानपुर में एक जनसभा को संबोधित करने के दौरान मेनका की नजर एक बीमार गधे पर पड़ी, जिसके पैर से खून बह रहा था। गधे को इलाज के लिए बरेली स्थित आईवीआरआई भेजा, जहां पता चला कि गधे को कैंसर की बीमारी है।

काटना पड़ सकता है पैर

सभा में गधे के पैर से खून बहता देख मेनका ने फौरन उसके इलाज के लिए डीएम को आदेश दिए। डीएम ने गधे को इलाज के लिए बरेली के आईवीआरआई भेजा, जहां डॉक्टरों ने बताया कि गधे को कैंसर है। डॉक्टरों के मुताबिक गधे की हालत गंभीर है और अगर तुरंत सर्जरी नहीं हुई तो पैर काटना पड़ सकता है। यहां तक कि उसकी जान भी जा सकती है।

जल्द होगी सर्जरी

पीएफए के रीजनल प्रेसिडेंट डॉ. सतीश यादव के मुताबिक 1 मई को सभा को संबोधित करने के दौरान मेनका की नजर घायल गधे पर पड़ी। उन्होंने तुरंत गधे के इलाज के आदेश दिए। गधे को पहले फैजाबाद भेजा गया इसके बाद उसे इलाज के लिए बरेली के आईवीआरआई लाया गया। यहां पता चला कि गधे को कैंसर की बीमारी है। इलाज न मिलने पर पैर काटना पड़ सकता है। गधे के पैर की ड्रेसिंग की गई है और एक-दो दिन में सर्जरी की जाएगी।

ये भी पढ़ें: अब दर्द से कराहने की जरूरत नहीं, चुटकीयों में मिलेगा आराम

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned