महिला ने कॉलगर्ल बता कर युवती की एफबी पर बनाई फर्जी आईडी

महिला ने कॉलगर्ल बता कर युवती की एफबी पर बनाई फर्जी आईडी

Dinesh M Trivedi | Publish: Sep, 07 2018 12:43:43 PM (IST) Surat, Gujarat, India

पुलिस जांच में धरी गई, बताया अपने बॉयफ्रेंड से संबंध होने का था संदेह

सूरत. फेसबुक पर एक युवती की फेक आइडी बना कर उसे कॉलगर्ल के रूप में दर्शाने वाली एक महिला को क्राइम ब्रांच ने गुरुवार को गिरफ्तार किया है।


क्राइम ब्रांच के सूत्रों के मुताबिक कतारगाम हरिओम सोसायटी निवासी जयश्री (30) तलाकशुदा है तथा दो बच्चों की माता है। वह पिछले कुछ समय से जयमीन पटेल नामक एक युवक के साथ उसके प्रेम संबंध थे और दोनों शादी करना चाहते थे। इस बीच जयमीन अपने एक मित्र के घर आता जाता था और उसकी बहन से भी उसकी बातचीत होती है।

जयश्री को आशंका थी कि जयमीन और उसके बीच प्रेम संबंध हैं। उसने युवती को बदनाम करने के इरादे से उसके फोटोग्राफ्स का उपयोग कर फेसबुक पर उसका फर्जी अकाउन्ट बनाया। इसमें उसको कॉलगर्ल दर्शाया गया तथा कई युवकों के साथ फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी। अकाउन्ट में उसने युवती का नम्बर भी डाल दिया।

युवती को कई लोगों के अभद्र फोन आने पर उसने अपने भाई से इस बारे में बात की। उसके भाई से शिकायत मिलने पर चौकबाजार पुलिस ने मामला दर्ज किया था। क्राइम ब्रांच ने फज्र्री आइडी बनाने में इस्तेमाल किए गए आइपी एड्रेस ढूंढ निकाला और फर्जी अकाउन्ट बनाने वाली जयश्री को गिरफ्तार कर लिया।

कपड़ा व्यापारी से ९२.७० लाख की धोखाधड़ी


सूरत. कपड़ा व्यापारी के साथ ९२.७० लाख रुपए की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। घटना के संबंध में पुणागाम पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबकि सरथाणा इन्द्र बिल्डिंग निवासी मनीष डुंगराणी व धर्मेश डुंगराणी ने मिलकर वराछा कमलबाग सोसायटी निवासी भरत घोरी के साथ धोखाधड़ी की।

दोनों ने गत २५ जनवरी २०१७ से १० जुलाई २०१८ के दौरान अपनी दो अलग-अलग फर्मो अंबे फेब्रिक्स व अंबे टेक्सटाइल के नाम पर ९० दिन में भुगतान का वादा कर ९२ लाख, ७० हजार, ३१३ रुपए का कपड़ा उधार लिया, लेकिन उसका भुगतान नहीं किया। उन्होंने जो चैक दिए वे भी बैंक से रिटर्न हो गए। इस पर भरत ने पूणागाम थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई।

Ad Block is Banned