मजदूरों की कमी से परेशान प्रदेश के उद्यमी

पलायन के बाद नहीं लौटे

By: Gyan Prakash Sharma

Published: 15 Jun 2021, 07:46 PM IST

सिलवासा. कोरोना संक्रमण की दर घटने से अब संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली में कारोबार व औद्योगिक इकाइयां चालू हो रही हैं मगर उद्योग व प्राइेवट सेक्टर में मजदूरों की कमी खलने लगी है। हालात यह हैं कि दोगुनी मजदूरी देने के बाद भी काम करने वाले लोग नहीं मिल रहे हैं। कोरोना की दूसरी लहर में आंशिक और वीकेंड लॉकडाउन की वजह से अन्य राज्यों के प्रवासी मजदूर अपने गांवों में पलायन कर गए थे और वे अभी तक पर्याप्त संख्या में नहीं लौटे हैं।
जिले में बिहार, उत्तरपद्रेश, उड़ीसा, मध्यप्रदेश, राजस्थान के कुशल श्रमिकों की तादाद अधिक हैं। कोरोना की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए प्रवासी मजदूर अपने घरों से आना नहीं चाहते हैं। बार-बार कोरोना महामारी से परेशान कई श्रमिकों ने अपने गांव में स्थाई रूप से रोजगार तलाश लिए हैं। कई श्रमिकों ने खेती को जीवनयापन का मार्ग बना लिया है। मानसून आने से श्रमिकों को उनके गांवों में ही धान-रोपण का काम मिल गया है। अब वे पुन: लौटना नहीं चाहते।

उद्योगपतियों के अनुसार

उद्योगपतियों के अनुसार कोरोना की दूसरी लहर की दस्तक के साथ प्रवासी मजदूर अपने गृह राज्य पलायन कर गए, ऐसे में कई सेक्टर को काफी परेशानियों से गुजरना पड़ रहा है। कारोबारी दिनेश अग्रवाल का कहना है कि कोरोना वायरस की वजह से मजदूर घर क्या गए, उससे कई उद्योगों की जैसे रफ्तार ही थम गई है। कुछ जगह तो आधे-अधूरे तरीके से काम हो रहा है तो कहीं काम पूरी तरह अटक गया है। जून में पाबंदियों में राहत मिली है, जिससे बड़ी मात्रा में ऑर्डर मिल रहे हैं, लेकिन उतना प्रॉडक्शन नहीं हो पा रहा है। लोहा-इस्पात, यार्न, केमिकल, इंजीनियरिंग, मार्बल, प्लास्टिक, पैकेजिंग कंपनियों में मजदूरों की किल्लत सता रही है। साफ है कि औद्योगिक सेक्टर से जुड़े सेक्टर ने कोरोना की पहली लहर में गत वर्ष बड़े पैमाने पर हुए मजदूरों के पलायन से कोई सबक नहीं सीखा है। दूसरी लहर में भी मजूदरों की वहीं पुराने हालातों से गुजरना पड़ रहा है। महामारी के दौरान कईयों को सरंक्षण नहीं मिला तो घर लौटते समय कई मजदूरों को उनका मेहनताना नहीं मिला।

Gyan Prakash Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned