छह वर्ष की वफादारी पर क्रिकेट सट्टे की लत पड़ी भारी


- 55.35 लाख रुपए लेकर फरार हुआ आगंडिया पेढ़ी का फरार प्रबंधक मेहसाणा से पकड़ा गया
- रात्रि कफ्र्यू में घूमते हुए पकड़ा शराब तस्करी का वांछित

- पेरोल जम्प करने वाले कैदी को पकड़ा

By: Dinesh M Trivedi

Updated: 17 May 2021, 01:19 PM IST

सूरत. हरिपुरा भवानीवड स्थित इलाके की एक आंगडिया पेढ़ी से 55.35 लाख रुपए लेकर फरार हुए प्रबंधक को पुलिस ने मेहसाणा से गिरफ्तार किया है। क्रिकेट सट्टे की लत में वह लाखों रुपए हार गया था। इस रकम में से उसने करीब 35 लाख रुपए लेनदारों को दे दिए थे। शेष रुपए पुलिस ने जब्त कर लिए हंै।


पुलिस के मुताबिक मेहसाणा जिले के वालम गांव निवासी रवि प्रजापति ने सौमिलकुमार अरविंद कुमार एंड कंपनी आगंडिया पेढ़ी के संचालक राकेश बारोट के साथ विश्वासघात किया था। रवि बीते छह वर्ष से राकेश के कार्यालय में काम करता था। तिजोरी की चाबियां और लेनदेन का सारा काम वही संभालता था। राकेश को भी उस पर पूरा भरोसा था।


रवि को पिछले कुछ समय से क्रिकेट पर सट्टा लगाने की लत लग गई थी। वह क्रिकेट पर लाखों रुपए का सट्टा लगा रहा था। मार्च-अप्रेल में सट्टे में वह लाखों रुपए हार गया। इन्हें चुकाने का उसके पास कोई इंतजाम नहीं था।

उस समय राकेश के पुत्र को कोरोना होने के कारण वह अपने परिवार के साथ अहमदाबाद में आइसोलेट हो गया था। मौका देख कर रवि ने गत 26 अप्रेल को तिजोरी में मौजूद सारी नकदी निकाल ली और रुपए लेकर मेहासाणा भाग गया। उसने अपना मोबाइल भी स्विच ऑफ कर दिया।


बाद में राकेश को खबर मिली तो उसने रवि के गांव में पड़ताल की लेकिन कोई अता पता नहीं चला। इस पर उसने लालगेट थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई थी। उसकी खोज में जुटी पुलिस टीम ने उसे ढूंंढ निकाला और गिरफ्तार कर लिया। उसने बताया कि 35 लाख रुपए उसने लेनदारों को चुका दिए थे। पुलिस उसके साथ क्रिकेट सट्टा के रैकेट से जुडे लोगों की भी खोजबीन कर रही है।

-------------
रात्रि कफ्र्यू में घूमते हुए पकड़ा शराब तस्करी का वांछित


सूरत. पुणागाम पुलिस ने रात्रि कफ्र्यू गश्त के दौरान पिछले पांच महीनों से शराब तस्करी के मामले में वांछित एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक आरोपी योगेश चौहाण उर्फ जाडिय़ो राजस्थान के सिरोही जिले के मोटा गांव का मूल निवासी है और पुणागाम नारायण नगर में रहता है। वह शराब की तस्करी व बिक्री में लिप्त है।

पांच माह पूर्व उसने मनीष रैयाणी व दीपक राजपूत के साथ मिलकर कामरेज से हितेष सोलंकी व विनोद कहार को शराब की खेप भेजी थी। यह खेप जब्त कर क्राइम ब्रांच ने अन्य आरोपियों के साथ ही उसके खिलाफ भी मामला दर्ज किया था। उसके बाद से वह फरार चल रहा था। शनिवार को पुलिस टीम कफ्र्यू के दौरान रात्रि गश्त पर थी।

उसी दौरान आईमाता रोड पर उसे संदिग्ध हालात में पकड़ा। पुलिस टीम उसे कफ्र्यू भंग के आरोप में थाने ले आई। थाने में पड़ताल व पूछताछ के दौरान पुलिस को उसके क्राइम ब्रांच में दर्ज शराब तस्करी व बिक्री के मामले में वांछित होने की जानकारी मिली।

--------------

पेरोल जम्प करने वाले कैदी को पकड़ा


सूरत. एसओजी पुलिस ने लाजपोर जेल से पेरोल जम्प कर फरार हुए एक कैदी को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक खटोदरा अंबानगर निवासी आरोपी जानकी वल्लभ बिसोई को 2019 में खटोदरा पुलिस ने चोरी के आरोप में पकड़ा था। तब से वह न्यायिक हिरासत में लाजपोर जेल में बंद था। गत वर्ष 9 अप्रेल को उसे पेरोल पर जेल से रिहा किया गया था और एक जनवरी 2021 को जेल लौटना था। उसके बाद से ही वह फरार था। मुखबिर से सूचना मिलने पर एसओजी ने उसे अंबानगर से गिरफ्तार कर लिया।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned