भरुच जिले में 10 हजार से ज्यादा गणपति प्रतिमाएं स्थापित

श्रीजी की प्रतिमाओं को ढोल-नगाड़े के बीच वैदिक मंत्रोच्चार के साथ भक्तों ने पंडालों और अपने अपने घरों में स्थापित किया

Sandip Kumar N Pateel

September, 1309:47 PM

Surat, Gujarat, India

भरुच. पहले पूजे जाने वाले देव श्री गणेश की सवारी गुरुवार को भरुच शहर व जिले में गुरुवार को दस दिनों का आतिथ्य लेने के लिए आ गई। गणपति महोत्सव को लेकर भक्तों में काफी उत्साह है। गुरुवार को श्रीजी की प्रतिमाओं को ढोल-नगाड़े के बीच वैदिक मंत्रोच्चार के साथ भक्तों ने पंडालों और अपने अपने घरों में स्थापित किया। शहर में आयोजकों ने इस बार गणपति पंडालों में बड़ी-बड़ी प्रतिमाओं की स्थापना की है। दस दिनों का मेहमान बने गणपति देव का भक्तों ने जोरदार स्वागत किया। गुरुवार को पहले दिन गणपति बप्पा की भक्तों ने आरती उतारी। घरों में प्रतिमाओं की स्थापना को लेकर भक्तोंं में काफी उत्साह देखा गया।
भरुच शहर और जिले में इस बार दस हजार से ज्यादा गणपति प्रतिमाओं की स्थापना की गई हैं। लोगों ने प्रतिमा को लेकर श्रेष्ठ मुहूर्त में स्थापना की। गुरुवार को श्रेष्ठ मुहूर्त सुबह ६ बजे से ७.३० बजे, सुबह ९ बजे से १०.३० बजे, दोपहर 11.३० बजे से १२.१५ बजे और दोपहर ३.३० बजे से ५.३० बजे तक रहा, जिसमें भक्तोंं ने विधि विधान से भगवान गणपति की प्रतिमाएं स्थापित की।
जिला प्रशासन ने जारी किया आदेश:
गणपति महोत्सव के मद्देनजर जिला प्रशासन की ओर से कई प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए गए हैं। महोत्सव के दौरान शोभायात्रा या विर्सजन यात्रा में केमिकल युक्त झटपट पाउडर के इस्तेमाल पर रोक लगाई गई हैं। वहीं लाउड स्पीकर के उपयोग में मर्यादा बरतने का आदेश दिया गया है।

 

हिन्दी सप्ताह आज से


भरुच. केन्द्रीय मृदा लवणता अनुसंधान संस्थान के क्षेत्रीय केन्द्र ज्योतिनगर भरुच में प्रतिवर्ष की भांति हिन्दी के प्रचार-प्रसार तथा कार्यालय में इसका उपयोग बढ़ाने के उद्देश्य से 14 से 20 सितंबर तक हिन्दी सप्ताह का आयोजन किया गया है। केन्द्र के अध्यक्ष डॉ. अनिल चिंचमलातपुरे ने बताया कि इस अवसर पर कार्यालय के अधिकारी एवं कर्मचारीगण के लिए विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया है। हिन्दी सप्ताह का समापान समारोह २० सितंबर को दोपहर ३.३० बजे होगा।

Sandip Kumar N Pateel
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned