रिंगरोड का गड्ढ़ा बन सकता है जानलेवा

आए दिन फंस रहे हैं वाहन


Vehicles are getting stuck in the any days

By: Sunil Mishra

Published: 07 Sep 2020, 01:34 AM IST

वापी. वापी नगर पालिका एक तरफ कोरोना संकट काल में करोड़ों रुपए टैक्स संग्रहण करने को लेकर अपनी वाहवाही लूट रही है, परंतु दूसरी तरफ खराब मार्गों को दुरुस्त करने की सुध नहीं ले रही है। इसका खामियाजा लोग परेशान होकर उठा रहे हैं।
नए रेलवे अंडरब्रिज से कुछ दूरी पर रिंग रोड के बीच में बना गड्ढ़ा वाहन चालकों के लिए कभी भी जानलेवा हादसे का सबब बन सकता है। इस मार्ग पर कई नई आवासीय इमारतें बन गई हैं और कई बन रही हैं। इससे रोजाना सैकड़ों लोगों का आवागमन होता है। रात में यहां स्ट्रीट लाइट का अभाव रहने से मार्ग के बीच का गड्ढ़ा पता नहीं चल रहा। गड्ढ़े के आसपास की सड़क भी धंस गई है। बरसात होने पर यहां पानी भरा रहने से भी लोगों को इसका पता नहीं चलता। रविवार को भी एक वैन इसमें फंस गई। जिसे लोगों की मदद से निकाला गया। इस दौरान स्थानीय लोगों ने बताया कि कुछ दिन पहले ही गड्ढ़े में बाइक धंसने से पति के साथ अस्पताल जा रही गर्भवती महिला घायल हो गई थी, जिसे अस्पताल में भर्ती करना पड़ा था। लोगों ने बताया कि कई बाइक चालक और टेम्पो वाले इस गड्ढ़े से गंभीर हादसे होते-होते बचे हैं। लोगों का आरोप है कि इसकी शिकायत नगर पालिका अधिकारी व प्रमुख से भी फोन पर की गई। लेकिन गड्ढ़े को भरने या टूटी सड़क की मरम्मत नहीं हुई। आगामी दिनों में स्थानीय लोगों इसके खिलाफ नपा कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन करने का मन बना रहे हैं।

रिंगरोड का गड्ढ़ा बन सकता है जानलेवा

कांग्रेस ने गड्ढों में किया पौधारोपण और पूजन
वांसदा. तहसील के विभिन्न विस्तार की सड़कें बरसात में गड्ढे में तब्दील हो गई हैं। लोगों को इससे भारी मुश्किल होने के बावजूद सड़कों की मरम्मत न होने पर कांग्रेस ने अनोखा विरोध प्रदर्शन शुरू किया है। इसके अंतर्गत वांसदा चिखली विधायक अनंत पटेल की उपस्थिति में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनाई - खंभालिया में नेशनल हाइवे नंबर 56 मार्ग के गड्ढों में पौधारोपण एवं पूजन किया। विधायक के अनुसार इस गंभीर समस्या की अनदेखी कर रही सरकारी विभाग की आंख खोलने के लिए यह प्रतिकात्मक विरोध किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सड़क पर गड्ढों की समस्या की ओर सरकार का ध्यान दिलाने के लिए गड्ढा महोत्सव मनाया जा रहा है। बरसात में वांसदा, चिखली, खेगाम समेत कई विस्तार में सड़कें बह गई है और बड़े बड़े गड्ढे हो गए हैं। स्थानीय लोग इससे दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं। वाहन पंचर और खराब हो रहे हैं। कई दुर्घटनाओं के बाद भी प्रशासन की आंख नहीं खुल रही है और कांग्रेस को इस तरह विरोध करना पड़ रहा है।

Sunil Mishra Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned