SURAT KAPDA MANDI: बंद की अवधि बढ़ेगी या होगा ऑड-ईवन

आठ दिवसीय बंद की अवधि बुधवार को होगी पूरी, कई कपड़ा व्यापारियों को बंद की अवधि बढऩे की आशंका

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 03 May 2021, 08:47 PM IST

सूरत. सूरत कपड़ा मंडी में सर्वाधिक लम्बी अवधि का लग्नसरा सीजन जारी है, लेकिन सूरत समेत देशभर की अधिकांश कपड़ा मंडियां बंद होने से व्यापार नहीं है। इसके बावजूद स्थानीय कपड़ा व्यापारियों को बुधवार को आठ दिवसीय बंद की अवधि पूरी होने के बाद की व्यवस्था की चिंता सताने लगी है। ज्यादातर को आशंका है कि प्रशासन बंद की अवधि बढ़ा सकता है तो कुछ व्यापारी मान रहे हैं कि रिंगरोड कपड़ा बाजार समेत अन्य व्यावसायिक केंद्रों पर ऑड-ईवन की प्रणाली लागू की जा सकती है।
कोरोना महामारी की दूसरी लहर ने सूरत समेत देशभर में तेजी से अपने पैर पसारे हैं, हालांकि इस लहर पर थोड़ा-थोड़ा नियंत्रण सूरत में होता दिखाई देने लगा है और इसकी वजह में 28 अप्रेल से लागू किए गए आठ दिवसीय बंद को माना जा रहा है जो कि पांच मई बुधवार को पूरा होगा। अब गुरुवार से सूरत कपड़ा मंडी खुलेगी अथवा नहीं इसके प्रति कपड़ा व्यापारियों व व्यापारिक संगठनों में अलग-अलग चर्चा होने लगी है। बंद की अवधि बढऩे की आशंका व्यक्त करने वाले ज्यादातर व्यापारियों के मुताबिक यह सही है कि बंद के दौरान कोरोना की मौजूदा स्थिति पर प्रशासन धीरे-धीरे नियंत्रण पा रहा है। मगर इसका मतलब यह भी नहीं है कि थोड़ी-बहुत सफलता पाने के बाद प्रशासन लगाम ढीली छोड़कर फिर से स्थितियों को बेकाबू होते देखेगा, इसलिए आशंका है कि 15 मई तक बंद की स्थिति यथावत कर दी जाएगी। उधर, इसके विपरीत व्यापारिक संगठनों से जुड़े व्यापारी प्रतिनिधि व अन्य जानकार मानते हैं कि गुरुवार से ऑड-ईवन का फार्मूला लागू किए जाने के ज्यादा आसार है। इसकी वजह में बताया कि प्रशासन शुरू से सूरत कपड़ा मंडी में भीड़ नियंत्रित रखने पर जोर देता रहा है और ऑड-ईवन में भीड़ के नियंत्रित रहने की पूरी संभावना रहती है। इसके अलावा प्रशासन काफी पहले से यह बताता रहा है कि पहले आठ-दस दिन का सेल्फ लॉकडाउन और बाद में ऑड-ईवन फार्मूला लागू रहेगा तो उन्हें कोरोना को नियंत्रण में लेने में काफी सहुलियत रहेगी।
सूरत कपड़ा मंडी में बंद की अवधि बढऩे अथवा ऑड-ईवन फार्मूला लागू होने की आशंका-संभावना व्यक्त करने वाले व्यापारी व व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधि यह भी बताते हैं कि आठ दिवसीय बंद का निर्णय राज्य सरकार के गृह मंत्रालय का था और आगे भी जो निर्णय होगा वो उसी का रहेगा, इसलिए बुधवार तक इंतजार करना ही पड़ेगा।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned