scriptSURAT NEWS: Tricolor painted in three colors will be felt on the Golde | SURAT NEWS: गोल्डन ब्रिज पर होगा तीन रंग में रंगे तिरंगे का एहसास | Patrika News

SURAT NEWS: गोल्डन ब्रिज पर होगा तीन रंग में रंगे तिरंगे का एहसास

-वर्ष 1881 में ब्रिटिशकाल के दौरान बनकर तैयार गोल्डन ब्रिज पर ब्रिटिश सरकार ने लगाया था एक जमाने में सोने के ताला

सूरत

Published: May 17, 2022 08:13:28 pm

golden bridge गुजरात की लाइफलाइन नर्मदा नदी पर भरुच में ब्रिटिशकाल में बना गोल्डन ब्रिज एक दिन पहले ही 142 साल का हुआ है और इसे जल्द ही केसरिया, सफेद व हरे तीन रंग के तिरंगे के रूप में रंगा जाएगा। नर्मदा मैया ब्रिज शुरू होने के बाद से ऐतिहासिक गोल्डन ब्रिज से वाहनों के आवागमन की उपयोगिता बिल्कुल घट गई है और इसकी सेवानिवृत्ति भी हो चुकी है।
141 साल पहले अंग्रेज सरकार ने भरुच में नर्मदा के दो किनारों को जोडऩे के लिए गोल्डन ब्रिज का निर्माण करवाया था। करीब 1300 मीटर लम्बे गोल्डन ब्रिज को बनाने में ब्रिटिश सरकार ने नदी में 25 स्पान पर पौने तीन लाख से ज्यादा रिवेट, 850 गर्डर व 25 उपयोग किया था। 2012 में गोल्डन ब्रिज को गोल्डन कलर से रंगा गया था और अब इसकी सेवानिवृत्ति होने पर तिरंगे का चोला पहनाया जाने की तैयारियां है। नर्मदा नदी पर गोल्डन ब्रिज के विकल्प के रूप में नया नर्मदा मैया ब्रिज बनकर तैयार हो गया है और करीब 10 माह से इसका उपयोग जारी है और इन बीते दस माह में गोल्डन ब्रिज से गिनती के वाहन गुजरे हैं। गोल्डन ब्रिज की वाहन परिवहन उपयोगिता खत्म होने पर इसे स्वदेशी प्रतीक के रूप में रखने के लिए भरुच की दो कलर कंपनियां गोल्डन ब्रिज को तिरंगे का आकर्षक रूप देने की तैयारियां कर चुकी है। इन कंपनियों के समक्ष यह प्रस्ताव स्थानीय विधायक दुष्यंत पटेल ने रखा था। तिरंगे के स्वरूप में गोल्डन ब्रिज सजकर देश में पहला ब्रिज बनकर जल्द दिखाई देगा।
SURAT NEWS: गोल्डन ब्रिज पर होगा तीन रंग में रंगे तिरंगे का एहसास
SURAT NEWS: गोल्डन ब्रिज पर होगा तीन रंग में रंगे तिरंगे का एहसास
-यूं पड़ा नाम गोल्डन ब्रिज

नर्मदा नदी पर 141 साल पहले निर्मित गोल्डन ब्रिज का नाम रखे जाने की भी दिलचस्प वजह रकी है। ब्रिज के निर्माण के दौरान तत्कालीन ब्रिटिश सरकार ने इस पर सोने का ताला लगाया था और इसके निर्माण में जो लागत आई थी, उससे बताया जाता है कि सोने का पुल बनकर तैयार हो सकता था। इसके अलावा भारत में पहला टोल टैक्स भी 1941-42 में गोल्डन ब्रिज पर ही लागू किया गया था, हालांकि देश की स्वतंत्रता के बाद गोल्डन ब्रिज से टोल टैक्स समाप्त कर दिया गया था।
-141 वर्ष के एैतिहासिक ब्रिज पर एक नजर-

-16 मई 1881 को कार्यरत गोल्डन ब्रिज आज भी कायम,


-भरुच-अंकलेश्वर के बीच नर्मदा पर बना गोल्डन ब्रिज वर्ष 1965 व 1971 के भारत-पाकिस्तान की लड़ाई में देश के उत्तर छोर को दक्षिण से जोडऩे वाला एक मात्र पुल रहा।

-गोल्डन ब्रिज की डिजाइन ब्रिटिश अभियंता सर जॉन हॉकशा ने बनाई थी। इसका निर्माण टी. व्हाइट व जीएम बैली ने किया था।


-चीफ रेजिडेंट इंजीनियर एफ. मैथ्यू व रेजिडेंट इंजीनियर एचजे हारचेव ने 7 सितंबर 1878 को गोल्डन ब्रिज निर्माण की शुरुआत की थी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान में 26 से फिर होगी झमाझम बारिश, यहां बरसेगी मेहरबुध ने रोहिणी नक्षत्र में किया प्रवेश, 4 राशि वालों के लिए धन और उन्नति मिलने के बने योगबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयपनीर, चिकन और मटन से भी महंगी बिक रही प्रोटीन से भरपूर ये सब्जी, बढ़ाती है इम्यूनिटीबेहद शार्प माइंड के होते हैं इन राशियों के बच्चे, सीखने की होती है अद्भुत क्षमतानोएडा में पूर्व IPS के घर इनकम टैक्स की छापेमारी, बेसमेंट में मिले 600 लॉकर से इतनी रकम बरामदझगड़ते हुए नहर पर पहुंचा परिवार, पहले पिता और उसके बाद बेटा नहर में कूदा3 हजार करोड़ रुपए से जबलपुर बनेगा महानगर, ये हो रही तैयारी

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: शिंदे खेमे में आ चुके हैं सरकार बनाने भर के विधायक! फिर क्यों बीजेपी नहीं खोल रही अपने पत्ते?Maharashtra Political Crisis: ‘मातोश्री’ में मंथन! सड़क पर शिवसैनिकों के उपद्रव का डर, हाई अलर्ट पर मुंबई समेत राज्य के सभी पुलिस थानेMaharashtra Political Crisis: 24 घंटे के अंदर ही अपने बयान से पलट गए एकनाथ शिंदे, बोले- हमारे संपर्क में नहीं है कोई नेशनल पार्टीBharat NCAP: कार में यात्रियों की सेफ़्टी को लेकर नितिन गडकरी ने कर दिया ये बड़ा काम, जानिए क्या होगा इससे फायदा2-3 जुलाई को हैदराबाद में BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक, पास वालों को ही मिलेगी इंट्री, सुरक्षा के कड़े इंतजामMumbai News Live Updates: शिवसेना ने कल पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़ेंगे उद्धव ठाकरेनीति आयोग के नए CEO होंगे परमेश्वरन अय्यर, 30 जून को अमिताभ कांत का खत्म हो रहा है कार्यकालCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.