डिंडोली में रात्रि कफ्र्यू के दौरान समाज कंटकों का आतंक, हथियार लेकर मचाया उत्पात, जमकर तोडफ़ोड़

 

- सोशल मीडिया में वीडियो वायरल होने से इलाके में दहशत


- Ruckus taking place with 000 weapons, sabotage

- Panic in the area due to the video becoming viral on social media

By: Dinesh M Trivedi

Updated: 18 Apr 2021, 11:40 AM IST

सूरत. डिंडोली क्षेत्र की लक्ष्मीनारायण सोसायटी क्षेत्र में शुक्रवार को रात्रि कर्फ़्यू के दौरान समाज कंटकों ने जमकर उत्पात मचाया और उन्होंने चार-पांच घरों को निशाना बना कर तोडफ़ोड़ की। हाथों व तलवार व लाठी डंडे लेकर आए बदमाशों ने कई वाहनों के शीशे तोड़े और कुछ लोगों पर हमला किया और दहशत का माहौल पैदा कर फरार हो गए। जाते - जाते उन्होंने लोगों को पुलिस से संपर्क करने पर और बुरे परिणाम भुगतने की धमकी भी दी।

खबर मिलने पर मौके पर पहुंची डिंडोली पुलिस ने चार बदमाशों को नामजद किया और उनकी तलाश शुरू कर दी है। घटना के संंबंध में बाब मेमोरियल अस्पताल के पीछे लक्ष्मीनारायण-२ सोसायटी निवासी माधुरी पत्नी मनोज महाले ने प्राथमिकी दर्ज करवाई है। जिसमें उसने आरोप लगाया कि शुक्रवार रात करीब ग्यारह बजे उसके पति घर पर नहीं थे। उस दौरान विक्की पाटिल, रवि, सलमान, निलेश व उनके साथी तलवार, लाठी डंडे लेकर उनके घर पर आए।

डिंडोली में रात्रि कफ्र्यू के दौरान समाज कंटकों का आतंक, हथियार लेकर मचाया उत्पात, जमकर तोडफ़ोड़

जाली में ताला लगा होने के कारण वे अंदर तो नहीं आ पाए। लेकिन उन्होंने घर के बाहर विद्युत मीटर पेटी, खिड़कियों के शीशे तोड़े, बाहर पार्क वाहनों में भी तोडफ़ोड़ की। साथ पुलिस को खबर करने पर देख लेने की धमकी दी। उसके बाद वहां से फरार हो गए। उनके जाने के बाद वह बाहर निकली तो उन्होंने निकट में स्थित लताबेन, सपना बेन, नीता बेन व अंबालाल बापू पर भी हमला किया। जिसमें वे चोटिल हुए। उनके घरों के बाहर पार्क वाहनों में भी तोडफ़ोड़ की और उन्हें अपशब्द कहे। फिर सब ने मिलकर पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। शनिवार को सोसायटी में हुई इस घटना के वीडियो फुटेज भी सोशल मीडिया में वायरल हो गए।
0
कानून व्यवस्था को लेकर डिंडोली पुलिस मौन :

पुलिस द्वारा रात्रि आठ बजे से सुबह छह बजे तक रात्रि कफ्र्यू होने के बावजूद बदमाशों ने बेखौफ होकर हथियारों के साथ हमला किया। उसके बाद बड़ी आसानी भाग निकले। बदमाशों की बुलंद हौसलों और सुरक्षा व्यवस्था की स्थिति को जानने के लिए डिंडोली पुलिस का कई बार संपर्क करने का प्रयास किया गया था। लेकिन थानाप्रभारी समेत अन्य पुलिसकर्मियों की ओर से कोई जवाब नहीं मिला।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned