ओएचइ का ज्वॉइंट स्लिप होने से बाधित हुआ था यातायात

सूरत स्टेशन के अधिकारियों ने मेटल फेलियर को हादसे का कारण माना

By: Sanjeev Kumar Singh

Updated: 15 Nov 2018, 12:35 PM IST

सूरत.

सूरत और उधना स्टेशन के बीच मंगलवार शाम सहारा दरवाजा के पास ओवर हेड इलेक्ट्रिक वायर (ओएचइ) टूटने के लिए मेटल फेलियर को जिम्मेदार बताया गया है। रिपोर्ट में ज्वॉइंट स्लिप होने का जिक्र है। इस हादसे के कारण दो-तीन ट्रेनों को जहां-तहां खड़ा कर दिया गया था।

 


सूरत और उधना स्टेशन के बीच सहारा दरवाजा से पहले लो लेवल यार्ड में मालगाड़ी के आने-जाने के लिए अलग से लाइन है। इसी लो लेवल लाइन पर मंगलवार शाम 6.45 बजे ओएचइ टूट गया था, जिसके बाद मेन लाइन से रेल परिचालन कुछ देर के लिए थम गया। गश्त लगाने वाले रेलवे सुरक्षा बल के दो जवानों ने सबसे पहले ओएचइ टूटा हुआ देखा तथा थाना निरीक्षक ईश्वर सिंह यादव को अवगत कराया।

 

सूचना मिलते ही स्टेशन मास्टर ने सयाजीनगरी एक्सप्रेस को उधना में करीब सवा घंटे तथा उसके पीछे बान्द्रा टर्मिनस-बीकानेर रणकपुर एक्सप्रेस को करीब एक घंटे भेस्तान स्टेशन पर रोक दिया। इन दोनों ट्रेन के पीछे आ रही 12951 मुम्बई सेंट्रल-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस को बायपास कर आगे निकाल दिया गया। इस घटना के बाद रेल अधिकारियों ने ज्वॉइंट रिपोर्ट बनाकर मुम्बई रेल मंडल को भेजी है।

 

इनमें इलेक्ट्रिक तथा स्टेशन के अन्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हैं। सूत्रों ने बताया कि ओएचइ टूटने के लिए मेटल फेलियर को जिम्मेदार माना गया है। लो लेवल यार्ड में मालगाड़ी के लिए लगाए गए ओएचइ में बीच से ज्वॉइंट स्लिप हो गया, जिससे यह खामी आई। स्थानीय रेल अधिकारियों ने मेटल फेलियर बताते हुए पूरी जिम्मेदारी कॉपर वायर की सप्लाई करने वाली कंपनी पर डाल दी है। उल्लेखनीय है कि ओएचइ टूटने के 45 मिनट बाद रेल परिचालन बहाल हो गया था। इससे तीन से अधिक ट्रेनों पर असर पड़ा।

 

बंद मकान में श्रमिक का शव बरामद

सूरत. सगरामपुरा क्षेत्र में मलेकवाड़ी विस्तार के बंद मकान से एक श्रमिक विजय केशव बारैया (50) का शव बरामद हुआ है। फोरेन्सिक पोस्टमार्टम में सिर में चोट लगने से मौत की आशंका जताई गई है। बुधवार सुबह मकान से दुर्गन्ध आने पर लोगों ने पुलिस को जानकारी दी। अठवा पुलिस शव पोस्टमार्टम के लिए न्यू सिविल अस्पताल ले आई। पुलिस ने बताया कि विजय अविवाहित था और वह शराब का आदी था। अठवा पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned