पेमेन्ट का नियम बनाने के लिए व्यापारियों से चर्चा करेंगे

पेमेन्ट का नियम बनाने के लिए व्यापारियों से चर्चा करेंगे

Pradeep Devmani Mishra | Publish: Sep, 06 2018 08:19:18 PM (IST) Surat, Gujarat, India

साउथ गुजरात टैक्सटाइ ट्रेडर्स एसोसिएशन ने बुलाई बैठक

सूरत

कपड़ा बाजार में लंब समय से पेमेन्ट की समस्या के कारण व्यापारी परेशान हैं। अन्य राज्यों के व्यापारी माल खरीदने के बाद समय पर पेमेन्ट नहीं करते और दबाव डालने पर माल वापस कर देते हैं। ऐसे में इस पर नियम बनाने के लिए व्यापारियों से सलाह के लिए साउथ गुजरात टैक्सटाइल ट्रेडर्स एसोसिएशन ने बैठक बुलाई है।
अग्रसेन भवन के वृंदावन हॉल में शनिवार को 10 बजे से 12.30 बजे तक आयोजित बैठक में पेमेन्ट 30 से 40 दिनों के अंदर लेने और रिटर्न गुड्स पर अंकुश लगाने पर चर्चा की जाएगी। कोई व्यापारी पेमेन्ट किए बिना अन्य व्यापार करने लगे तो इसकी रोकथाम के उपाय और व्यापार के लिए नए नियम बनाने पर भी चर्चा की जाएगी।
उल्लेखनीय है कि हाल में ही साउथ गुजरात यार्न डीलर एसोसिएशन ने वीवर्स से सौदे के पहले एडवांस चेक लेने का नियम बनाया है। इसके बाद अन्य सभी व्यापारिक संस्थाओं में भी ऐसे नियम की आवश्यकता महसूस होने लगी है। कपड़ा व्यापारी भी अन्य राज्यों से समय पर पेमेन्ट नहीं मिलने और रिटर्न गुड्स के कारण परेशान है। वह भी इससे छुटकारा पाना चाहते हैं। इस कारण व्यापार कड़े नियम बने ऐसा चाहते हैं।देश"

देशभक्ति गीतों मेें झलकी राष्ट्रीय एकता
सिलवासा

हिन्दी पखवाड़े के तहत गुरुवार को राजभाषा कार्यान्वयन समिति ने हिन्दी देशभक्ति गीत प्रतियोगिता डॉ. अब्दुल कलाम सरकारी कॉलेज में आयोजित की। इसमें सरकारी कर्मचारी, शिक्षण संस्थाओं के विद्यार्थी एवं उद्योगकर्मियों ने भाग लिया।
राजभाषा सचिव मिहिर वर्धन ने उद्घाटन मौके पर बताया कि हमारे देश की संपर्क भाषा हिन्दी है। देश में विभिन्न संस्कृति एवं भाषाओं का भंडार है। इन्हे जोडऩे का कार्य हिन्दी ने किया है। समारोह में कलाकारों ने लोकगीत एवं नृत्य पेश किए। एपीजे अब्दूल कलाम, एसएसआर एवं टोकरखाड़ा स्कूल समेत अन्य के सौ से ज्यादा प्रतियोगियों ने भाग लिया। विजेता प्रतियोगियों को 14 सितम्बर को हिन्दी दिवस समारोह में पुरस्कृत किया जाएगा। समारोह में उपसचिव करणजीत वाड़ोदरिया, विभागीय अधिकारी भारती सोलंकी, वरिष्ठ हिन्दी अधिकारी अनीता कुमार सहित अन्य गणमान्य मौजूद रहे।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned