रात को सोते समय नजदीक से गुजर गए ‘यमराज’

रात को सोते समय नजदीक से गुजर गए ‘यमराज’

Dinesh M.Trivedi | Publish: Mar, 17 2019 09:47:03 PM (IST) | Updated: Mar, 17 2019 09:47:04 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India


-तीस साल पुरानी जर्जर इमारत का स्लैब धराशायी
-अडाजण पाटिया के पास शनिवार रात ढाई बजे हुआ हादसा
- इमारत में रहने वाले परिवार डर के मारे बाहर दौड़े

सूरत. अडाजण पाटिया क्षेत्र में शनिवार रात तीस साल पुरानी एक इमारत की पहली मंजिल का स्लैब गिरने से अफरा-तफरी मच गई। हादसे के दौरान लोग सो रहे थे। हादसे में बाल-बाल बचे लोगों को लगा कि यमराज बगैर नुकसान पहुंचाए उनके नजदीक से गुजर गए। इमारत में रहने वाले लोग डर के मारे बाहर दौड़ आए। दमकलकर्मियों ने मौके पर पहुंच पर मलबा हटाया और जोखिम भरा हिस्सा दूर किया।


दमकल विभाग के मुताबिक अडाजण पाटिया क्षेत्र में संघवी टावर के नाम से बहुमंजिला इमारत है। करीब तीस साल पुरानी इमारत जर्जर हो चुकी है। इमारत के भूतल पर दुकानें हैं और ऊपरी मंजिल पर 50 से अधिक परिवार रहते हैं। शनिवार रात लोग सो रहे थे, तभी करीब ढाई बजे पहली मंजिल की गैलरी का स्लैब धराशायी हो गया। स्लैब गिरने से हुई आवाज से फ्लैट में रहने वाले लोग जाग गए और डर के मारे बाहर दौड़ आए। बाहर आकर देखा तो स्लैब टूटा हुआ था। लोगों ने दमकल विभाग को सूचना दी। मौके पर पहुंचे दमकलकर्मियों ने मलबा हटाया और जोखिम वाला हिस्सा हटा दिया। राहत की बात यह रही कि हादसे में किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई।


- लोगों को लगा भूकंप आया


फ्लैट में रहने वाले लोगों ने बताया कि रात करीब ढाई बजे स्लैब धराशायी होने से उठी आवाज के बाद ऐसा लगा कि भूकंप आया है। सभी लोग डर के मारे इमारत से बाहर सडक़ों पर दौड़ आए। बाहर आकर देखा तो पता चला कि पहली मंजिल का स्लैब टूटा है। हादसे के बाद इमारत में रहने वाले लोगों में डर है। लोगों ने बताया कि इमारत तीस साल पुरानी होने से जर्जर हो चुकी है। दमकल अधिकारी के मुताबिक इमारत की स्टेबिलिटी जांच करना जरूरी है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned