खरीद केंद्र पर लगी आग से २ क्विंटल गेहूं और २०० बोरा बारदाना जला

खरीद केंद्र पर लगी आग से २ क्विंटल गेहूं और २०० बोरा बारदाना जला

Nitin Sadaphal | Publish: Apr, 23 2019 10:04:00 AM (IST) Tikamgarh, Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

समिति प्रबंधक की लापरवाही

टीकमगढ़. बुडेरा क्षेत्र के डिकोली खरीद केंद्र में गेहूं और बारदाना में अचानक आग लग गई। आग लगने से २०० बोरा बारदाना और २ क्विंटल से अधिक गेहूं जल गया। घटना की सूचना समिति प्रबंधक को दी गई। समिति प्रबंधक और किसानों की मदद से आग की घटना को काबू में कर लिया है। हालाकिं केंद्र पर ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है। लेकिन किसानों और जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा समिति प्रबंधक की लापरवाही बताई जा रही है। जिसका हर्जाना भी जिम्मेदार को भुगतना पड़ेगा।
सोमवार की सुबह ९ बजे के करीब डिकोली खरीद केंद्र पर रखे बारदाना में अज्ञात कारणों से आग लग गई। आग लगते ही बारदाना से धुआं और आग की लपटे किसानों को दिखाई दी। किसानों ने आग को देख एकत्रित लाइन में रखे गेहूं की बोरियों को दूर किया। इसके बाद बारदाना में लगी आग को बुझाया गया। मौके पर किसानों और समिति प्रबंधक ने देखा तो २०० बोरा बारदाना और २ क्विंटल से अधिक गेहूं जल गया था। किसानों को कहना है कि समिति प्रबंधक की लापरवाही के कारण खरीद केंद्र के गेहूं में आग लग गई है। उनके द्वारा शासन के निर्देशों का पालन नहीं किया जा रहा है। खेतों में अनाज और बारदाना को खुले में डाल दिया जाता है। गनीमत यह रही की किसानों की मदद से आग पर काबू पा लिया है। नहीं तो खरीदी केंद्र पर रखा हजारों बोरा बारदाना और गेहूं जलकर राख हो जाता।
केंद्र पर नहीं की कोई व्यवस्थाएं- घटनाओं का सामना करने और किसानों को सुविधाएं मुहैया कराने के लिए शासन ने जिला सहित समिति प्रबंधकों को निर्देश दिए है।
निर्देश में कहा कि केंद्र पर पानी का टैंकर, आग की घटनाओं को रोकने के लिए अग्नि समनयंत्र के साथ अन्य प्रकार की सुविधाएं होना जरुरी है। लेकिन केंद्रों पर न तो पानी की कोई व्यवस्थाएं है और न ही घटनाओं को रोकने के लिए कोई साधन। अगर मौके पर किसान नहीं होते तो खरीद केंद्र पर बड़ा हादसा हो सकता था।

केंद्रों का नहीं हो रहा निरीक्षण
अधिकारियों का कहना है कि खरीद केंद्रों पर खरीदे गए अनाज को भरने वाला बारदाना ज्वलन शील है। आग जैसी घटनाओं से बचाने के लिए पानी टैंकर के साथ अन्य व्यवस्थाए करना जरुरी है। लेकिन लापरवाह प्रबंधन के कारण बड़ा हादसा होने से टल गया है। घटना को लेकर मौके पर पुलिस पहुंची। पुलिस ने मामले में छानबीन शुरू कर दी है।

बारदाना सहित केंद्र पर रखे अनाज की जिम्मेदारी समिति प्रबंधक की है। डिकोली खरीद केंद्र पर जो आग की घटना में बारदाना और गेहूं को नुकसान हुआ है। उसका हरजाना जिम्मेदारों को भुगतना पड़ेगा। इसके साथ ही लापरवाही पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए जाएंगे।
एसडी ब्रम्हा, नागरिक आपूर्ति अधिकारी, टीकमगढ़

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned