विशेष ग्राम सभाओं में पंचायतों के जिम्मेदारों द्वारा इस तरह की गई खाना पूर्ति

विशेष ग्राम सभाओं में पंचायतों के जिम्मेदारों द्वारा इस तरह की गई खाना पूर्ति

akhilesh lodhi | Publish: Sep, 03 2018 01:16:09 PM (IST) Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

कल्याणकारी योजनाओं से जोडऩे, शत-प्रतिशत सत्यापन एवं सत्यापित हितग्राहियों को स्मार्ट कार्ड प्रदाय की स्थिति का परीक्षण किया जाए

टीकमगढ़.जिले में मुख्यमंत्री की कल्याणकारी योजनाओं से जोडऩे, शत-प्रतिशत सत्यापन एवं सत्यापित हितग्राहियों को स्मार्ट कार्ड प्रदाय की स्थिति का परीक्षण किया जाए। इसके साथ ही पात्र हितग्राही पंजीयन से वंचित न रह जाए। जिसके लिए कलेक्टर ने ग्राम पंचायतों को विशेष ग्राम सभाएं लगाने के आदेश दिए है। लेकिन ग्राम पंचायतों में इन विशेष ग्राम सभाओं का कोई असर नहीं हुआ है। ग्रामीणों को पंचायत के जिम्मेदारों ने न तो विशेष ग्राम सभाओं की जानकारी दी और न ही कल्याणकारी योजना के बारे में पात्र हितग्राहियों को सूचना दी। रविवार को टीकमगढ़ जनपद पंचायत की बौरी ग्राम पंचायत के साथ अन्य पंचायतों में विशेष ग्राम सभाओं के आयोजन में खानापूर्ति की गई। बौरी ग्राम पंचायत निवासी संजय यादव, बिक्रम यादव ,भज्जू यादव ,भईयन यादव,राजा यादव, पूरन आदिबासी, हरदयाल ने बताया कि रविवार की सुबह 10 बजे से दोहपर तक पंचायत भवन में योजनाओं का लाभ लेने के लिए सरपंच, सचिव और रोजगार सहायक का इंतजार कर रहे है। लेकिन दोपहर तक न तो जो नोडल अधिकारी पहुंचे और न ही पंचायत के जिम्मेदार। पंचायत के जिम्मेदारों की मनमानी के चलते योजना और सभाओं की जानकारी लोगों को नहीं दी जाती है। जिसको लेकर सैकड़ों लोगों को योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है।
यह किया जाना था विशेष ग्राम सभाओं में
संबल योजना के तहत पात्र श्रमिकों के शत-प्रतिशत पंजीयन/सत्यापन/स्मार्ट कार्ड वितरण का परीक्षण और सत्यापन के लिए मध्यप्रदेश पंचायतराज एवं ग्राम स्वराज अधिनियम के प्रावधानों के अनुसार प्रत्येक ग्राम पंचायत मुख्यालय पर रविवार को विशेष ग्राम सभाओं का आयोजन किए जाने का आदेश दिया था। जिसमें कलेक्टर अभिजीत अग्रवाल ने प्रत्येक ग्राम सभा के लिए अधिकारियों की सेक्टर/नोडल अधिकारियों के रूप में ड्यूटी लगाई जाने थी। इन ग्राम सभाओं के माध्यम से मुख्यमंत्री जन कल्याण संबंल योजना में प्रत्येक पात्र हितग्राही के पंजीयन, पूर्व में चिन्हांकित पात्र हितग्राहियों के शत-प्रतिशत सत्यापन करना था। लेकिन वहां की स्थिमि उलट दिखी।
ग्राम सभा करने जगह रोजगार सहायक घूम रहे बाहर,ग्रामीण कर रहे इंतजार
जतारा जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत पंचमपुरा के पंचायत भवन में ताला लगा मिला। ग्रामीण पंचायत भवन के बाहर सरपंच, सचिव ,रोजगार सहायक और नोडल अधिकारी का इंतजार कर रहे थे। पंचमपुरा निवासी बब्लू केवट, बलवान केवट, सूरज केवट, भगवान दास केवट, सीताराम पाल, कनई पाल, किशोरी केवट ने बताया कि संबल योजना के साथ अन्य योजनाओं के तहत विशेष ग्राम सभाओं की सूचना दूसरी ग्राम पंचायत से मिली थी। जिसको लेकर ग्राम पंचायत में आ बैठे। लेकिन यहां पर कोई नहीं था। रोजगार सहायक से बात की गई तो उनका कहना था कि में काम से शहर आया हूं। इसके बाद कहने लगा कि पंचायत भवन में हूं। लेकिन उस समय पर पंचायत भवन में ताला लगा हुआ था।

सरपंच और ग्रामीणों को नहीं दी सभा की जानकारी
मोहनगढ़ क्षेत्र की ग्राम पंचायत मस्तापुर सरपंच प्रतिनिधि रामसिंह ने कहा कि विशेष ग्राम सभा की जानकारी ग्राम पंचायत सचिव ने नहीं दी है। इसके साथ ही ग्रामीण रामलाल लोधी, निगरानी समिति सदस्य जितेंद्र जैन, अलोक जैन,विजय लोधी,रामस्वरूप लोधी, मातादीन अहिरवार, बलकिशन अहिरवार ने बताया कि ग्राम पंचायत द्वारा जितनी भी ग्राम सभाएं की गई। उनकी ग्रामीणों को कोई जानकारी नहीं दी जाती है। सचिव मनमाने तरीके से सभाओं को सम्पन्न करा लेता है। वहीं सचिव का कहना है कि ग्राम सभाओं के ऐसे आदेश आते रहते है। उनसे कु छ भी नहीं होता है।
बंद पड़ा था पंचायत भवन
बल्देवगढ़ जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत फरका पठराई की ग्राम पंचायत बंद पड़ी हुई थी। वहां पर न तो सरपंच,सचिव और रोजगार सहायक थे और न ही नोडल अधिकारी दिखाई दिए। जहां ग्रामीणों को योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाया है।
चंदेरा में मिली विशेष ग्राम सभा
जतारा जनपद की ग्राम पंचायत चंदेरा में सरंपच,सचिव और रोजगार सहायक द्वारा कलेक्टर के आदेश पर विशेष आदेश पर ग्राम सभाओं का आयोजन किया गया। जिसमें ग्रामीणों को संबल योजनाओं की जानकारी दी गई। सभा में गांव के दर्जनों लोग पहुंचे। जिसमें कई लोगों को जानकारी दी गई। वहीं लिधौरा ताल ग्राम पंचायत को विशेष ग्राम सभा की ग्रामीणों को कोई जानकारी नहीं दी गई।
इनका कहना
शासन ने संबल योजना के तहत पात्र श्रमिकों के शत-प्रतिशत पंजीयन/सत्यापन/स्मार्ट कार्ड वितरण का परीक्षण और सत्यापन के लिए विशेष ग्राम सभाओं को लगाने के लिए आदेश दिए है। जिन ग्राम पंचायतों में विशेष ग्राम सभाएं नहीं लगाई गई है,उनकी जांच की कर नोड़ल सहित ग्राम पंचायत के जिम्मेदारों पर कार्रवाई की जाएगी।
अभिजीत अग्रवाल कलेक्टर टीकमगढ़।

Ad Block is Banned