स्वस्थ रहने के लिए घूमने व स्वस्थ लोकतंत्र के लिए मतदान की ली शपथ

स्वस्थ रहने के लिए घूमने व स्वस्थ लोकतंत्र के लिए मतदान की ली शपथ

Sanket Shrivastava | Publish: Apr, 22 2019 09:09:12 AM (IST) Tikamgarh, Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

पत्रिका के हमराह कार्यक्रम में युवाओं ने दिखाया उत्साह

टीकमगढ़. यदि आपकों स्वास्थ्य रहना है तो नित्य घूमें और खेले। ऐसे ही स्वास्थ्य लोकतंत्र के लिए मतदान अवश्य करें। रविवार को इसी थीम पर पत्रिका के हमराह कार्यक्रम का आयोजन किया गया। स्थानीय पुलिस ग्राउण्ड पर आयोजित इस कार्यक्रम में बच्चों के साथ ही युवाओं ने जमकर भागीदारी की। पुलिस ग्राउण्ड पर आयोजित पत्रिका के हमराह कार्यक्रम में बड़ी संख्या में बच्चें एवं युवा शामिल हुए। यहां पर बच्चों एवं युवाओं ने जहां अच्छी सेहत के लिए खेल एवं घूमने का महात्व बताया वहीं बच्चों ने खेल कर कार्यक्रम का जमकर लुफ्त उठाया। हमराह कार्यक्रम के बाद पत्रिका ने सभी युवाओं से जहां खुद मतदान करने की शपथ दिलाई, वहीं उनसे अपील की वह अपने आस-पड़ौस के लोगों को भी मतदान केन्द्र भेजें। इसके साथ ही बच्चों को समझाइश दी गई कि वह भी अपने माता-पिता से आगामी 6 मईको मतदान करने के लिए कहें।
जमकर खेले बच्चे: रविवार को इस आयोजन में खेल एवं युवक कल्याण विभाग के साफ्टबॉल, एथलीट एवं फुटबाल के बच्चों ने भाग लिया। इसके साथ ही प्रतिदिन नियमित रूप से घूमने आने वाले लोगों ने भी कार्यक्रम में शिरकत की। यहां पर आयोजित कार्यक्रम में बच्चों ने सुबह से खेल का जमकर लुफ्त उठाया। इसके साथ ही बच्चों ने यह भी बताया कि वह खेल में बहुत आगे जाना चाहते है और शरीर को स्वास्थ्य रखने के लिए सुबह से जल्दी उठना और खेलना महात्वपूर्ण है।
तनाव दूर होता है: पत्रिका के हमराह कार्यक्रम में आए कांग्रेस महामंत्री संजय नायक ने कहा कि घूमना सेहत के लिए बहुत जरूरी है। वह लंबे समय से घूम रहे है। उनका कहना था कि घूमने से जहां शरीर फिट रहता है।
शैलेन्द्र द्विवेदी का कहना था कि इस भागदौड़ भरी जिंदगी में लोग न चाह कर भी तनावग्रस्त हो रहे है। ऐसे में सुबह से ताजी हवा और दोस्त यारों से गपशप तनाव को कम करती है।
अमित गोस्वामी का कहना था कि वह पिछले 7-8 वर्षों से लगातार घूम रहे है। वजन बढऩे से परेशान होने पर उन्होंने सुबह से उठना और घूमना अपनी दिनचर्या में शामिल कर लिया है। इससे अब उन्हें काफी राहत है।
खेलते नही तो शरीर दुखता है: वहीं पुलिस लाइन में नियमित रूप से फुटवाल खेलने वालों का कहना था कि अब तो शरीर को रोज खेलने की आदत हो गई है। यदि खेलते नही है तो शरीर दुखता है। पुलिस जैसी कठिन नौकरी करने वाले राहुल पटैरिया, सपनेश चौधरी, धर्मेन्द्र तिवारी का कहना था कि सुबह से उठकर फुटबाल खेलने के बाद पूरे दिन वह ताजगी से लवरेज रहते है।
वहीं सादिक खान का कहना था कि सुबह से उठकर ग्राउण्ड पर आने से पूरे दिन का शेड्यूल बना रहता है और सब काम समय से होते जाते है। वहीं आशीष यादव, सत्यदेव प्रजापति, भागचंद्र प्रजापति सहित अन्य लोगों का भी कहना था कि जीवन में एक न एक खेल से दोस्ती जरूर होनी चाहिए।
लिया मतदान का संकल्प: हमराह कार्यक्रम में अपनी नियमित दिनचर्या, खेल एवं घूमने के महात्व को बताने के साथ ही सभी युवाओं एवं बच्चों ने मतदान की शपथ ली। यहां पर आए सभी लोगों ने 6 मईको सबसे पहले मतदान करने का संकल्प लिया।
उनका कहना था कि हम पांच साल के लिए अपनी सरकार चुनने के लिए मतदान केन्द्र जाकर मतदान अवश्य करेंगे। हमराह कार्यक्रम में अनूप मंडल एवं सुनीता रिछारिया का विशेष सहयोग रहा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned