रावणा राजपूत सेवा संस्थान की ओर से शिविर में 60 यूनिट हुआ रक्तदान

रावणा राजपूत सेवा संस्थान की ओर से शिविर में 60 यूनिट हुआ रक्तदान
शिविर में 82 महिला पुरुषों ने पंजीकरण कराया। इस दौरान 60 यूनिट रक्त एकत्रित किया गया।

Pawan Kumar Sharma | Updated: 25 Jun 2018, 03:49:26 PM (IST) Tonk, Rajasthan, India

संस्थान के जिलाध्यक्ष जयसिंह राजावत ने कहा है कि रक्तदान से बड़ा जीवन में कोई दान नहीं हो सकता।

उनियारा. श्रीअखिल रावणा राजपूत सेवा संस्थान के जिलाध्यक्ष जयसिंह राजावत ने कहा है कि रक्तदान से बड़ा जीवन में कोई दान नहीं हो सकता। उन्होंने यहां सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में समाज की ओर से सर्वसमाज के आयोजित शिविर की शुरुआत की।

 

शिविर में 82 महिला पुरुषों ने पंजीकरण कराया। इस दौरान 60 यूनिट रक्त एकत्रित किया गया। जिलाध्यक्ष ने बताया कि रक्तदाताओं को रक्तदान दाता कार्ड विभाग की ओर से उपलब्ध कराए जाएंगे। रक्तदाताओं का परीक्षण चिकित्साधिकारी डॉ देवेन्द्र कुमार वर्मा ने किया।

 

जबकि तकनीशियन विपिन जैन के नेतृत्व में दल के सहायक लेब तकनीशियन विकास शर्मा, दिनेश चौधरी तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रयोगशाला तकनीशियन कन्हैयालाल धाकड़ ने रक्त एकत्रित करने का कार्य किया।

 

शिविर में ओंकार सिंह नरूका एवं बाबूसिंह भाटी, रावणा राजपूत समाज के शहर अध्यक्ष उम्मेद सिंह चौहान, पूर्व पार्षद दीपेन्द्र सिंह नरूका, राजपूत करणी सेना कोटा के जिलाध्यक्ष निर्भय सिंह शक्तावत, अभय सिंह शक्तावत, कल्याण सिंह आदि ने सहयोग किया। शिविर में महिलाओं ने भी रक्तदान किया।

 


मालपुरा. श्रीअखिल रावणा राजपूत सेवा संस्थान की ओर से रविवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में रक्तदान शिविर लगाया गया। शिविर में युवा जिलाध्यक्ष कालू सिंह राठौड़, उपाध्यक्ष गिरिराज सिंह दहिया, तहसील अध्यक्ष रामस्वरूप राठौड़, करणी सेना अध्यक्ष लवपाल सिंह, ओमसिंह, रणजीत सिंह, हनुमान सिंह, बजरंग, लक्ष्मण, जुगल, गोरधन, रणजीत सिंह राठौड़ सहित कई सदस्यों ने योगदान दिया। इससे पहले रक्तदान का महत्व बताया।

 

प्रतिभाओं को सम्मानित किया

निवाई. जमना गार्डन में महात्मा ज्योतिबा फुले माली समाज प्रतियोगी शिक्षण संस्था ने संत शिरोमणी लिखमीदासजी पुरस्कार समारोह एवं कॅरियर गाइडेन्स सेमिनार का आयोजन किया। मुख्य अतिथि सुरेश सैनी वरिष्ठ निजी सहायक एनएएचआई ने महात्मा ज्योतिबा फुले के चित्र के समक्ष दीप जलाकर कार्यक्रम की शुरुआत की।

 

इस दौरान सुरेश सैनी ने कहा कि बालकों को उच्च शिक्षा दिलाना चाहिए, जिससे समाज का सुधार हो सके। अतिथियों ने प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया।

 

कार्यक्रम में पूर्व निदेशक आईटीआई रामअवतार सैनी, महेश सैनी, शंकरलाल सैनी, डॉ. रामअवतार सैनी, छोटूलाल सैनी, चन्दन सैनी, प्रेम गंगाड़ा, सुरेश सैनी, कन्हैया, दीनदयाल, सीताराम कटारा, बाबूलाल सैनी, किशन मौजूद थे। समारोह में कक्षा 10 व 12 वीं में 8 0 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned