बजरी भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली की टक्कर से बाइक सवार पति की मौत, पत्नी हुई घायल

मोटरसाइकिल पर सवार होकर जामडोली बैंक जा रहे दंपती के जामडोली मोड़ पर सोमवार दोपहर तीन बजे अवैध बजरी से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली ने टक्कर मार दी। हादसे में पति की मौके ही मृत्यु हो गई और पत्नी गंभीर घायल हो गई।

By: pawan sharma

Published: 12 Apr 2021, 08:09 PM IST

निवाई. उपखण्ड के नोहटा गांव से मोटरसाइकिल पर सवार होकर जामडोली बैंक जा रहे दंपती के जामडोली मोड़ पर सोमवार दोपहर तीन बजे अवैध बजरी से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली ने टक्कर मार दी। हादसे में पति की मौके ही मृत्यु हो गई और पत्नी गंभीर घायल हो गई। ट्रैक्टर चालक आनन-फानन में बजरी से भरी ट्रॉली को मौके पर छोडकऱ ट्रैक्टर लेकर फरार हो गया। ट्रैक्टर चालक के साथियों व अन्य बजरी माफिया ने अवैध बजरी से भरी ट्रॉली को खाली कर जेसीबी से बजरी फैलाने में जुट गए।

इसी दौरान जामडोली में मनरेगा कार्य का निरीक्षण कर रहे प्रधान रामावतार लांगडी ने तुरंत गंभीर घायल महिला को उठाकर अपनी गाड़ी से राजकीय सामुदायिक चिकित्सालय निवाई लेकर रवाना हो गए। ट्रैक्टर की टक्कर से नोहट्टा निवासी मोटरसाइकिल चालक योगेश पांचाल(28) की घटना स्थल पर मृत्यु हो जाने से ग्रामीण आक्रोशित हो गए और मृतक के शव को सडक़ पर कपड़े से ढककर निवाई-बौंली जाम कर दिया, जिससे दोनों ओर वाहनों की लंबी लाइन लग गई।

घटना की सूचना मिलते ही बरोनी थानाधिकारी मय जाप्ते के मौके पहुंच गए और ग्रामीणों को जाम खोलने के लिए समझाइश की, जिस पर ग्रामीणों ने उपखंड अधिकारी त्रिलोकचंद मीणा व पुलिस उपाधीक्षक ताराचंद को मौके पर बुलाने की मांग की। इस दौरान प्रधान रामावतार लांगडी भी ग्रामीणों समझाने के लिए घटनास्थल पहुंचे।

और ग्रामीणों व अधिकारियों से बातचीत की। इसके बाद उपखंड अधिकारी त्रिलोकचंद मीणा तथा पुलिस उपाधीक्षक ताराचंद ने ग्रामीणों को बजरी माफिया के विरुद्ध कठोर कार्यवाही करने तथा मुआवजा दिलवाने का आश्वासन दिया। तब जाकर ग्रामीणों ने करीब दो घंटे बाद प्रदर्शन समाप्त कर दिया। सडक़ के दोनों ओर वाहनों की कतार लाइन लग गई, जिससे यातायात प्रभावित हो गया।


अलग-अलग हो मामले दर्ज
ग्रामीणों ने अधिकारियों का बताया कि बजरी माफिया ने मृतक के शव को नहीं उठाया और ना ही गंभीर घायल को अस्पताल लेकर गए। वहीं अवैध बजरी से भरी ट्रॉली को खाली कर सबूत मिटाने में जुट गए। इसलिए ट्रैक्टर चालक के साथ-साथ हत्या के सबूत मिटाने वाले लोगों के विरुद्ध भी मुकदमा दर्ज किया जाए।

साथ ही अवैध बजरी की रोकथाम के लिए अस्थायी पुलिस चौकी पर तैनात पुलिस कर्मियों द्वारा बजरी माफिया के विरुद्ध कोई ठोस कार्रवाई नहीं की जाती है, जिससे क्षेत्र में अवैध बजरी खनन और परिवहन कार्य जोरों पर चल रहा है। ग्रामीणों ने यह भी मांग की कि मृतक के परिवार को मुआवजा दिलवाया जाए।

बच्चों सिर से उठा साया

अवैध बजरी से भरे ट्रैक्टर की टक्कर से मृत योगेश मजदूरी कर अपने मां-बाप, पत्नी, तीन बेटियां व एक पुत्र का पालन पोषण करता था। योगेश की मृत्यु होने से परिवार गहरे संकट से घिर गया।

जामडोली मोड़ के समीप पुलिया पर अवैध बजरी से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली ने मोटर साइकिल के टक्कर मार दी, जिससे योगेश पांचाल निवासी नोहटा की मौके पर मृत्यु हो गई। कैलाश विश्नोई,थानाधिकारी, बरोनी

बजरी से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली की टक्कर से एक व्यक्ति की मृत्यु हुई है। मृतक की पत्नी भी गंभीर घायल हो गई। घायल महिला को रेफर कर दिया गया तथा ट्रैक्टर चालक वाटिका का है, जिसे गिरफ्तार करने के लिए पुलिस की टीम भेजी गई और ट्रॉली को जब्त कर लिया गया है। ताराचंद, पुलिस उपाधीक्षक, पीपलू

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned