कक्षा तीन व चार में पढ़ रहे भाई -बहिन की इस तरह से हुई मौत से ढ़ाणी में मच गया कोहराम

ग्रामीणों की सहायता से दोनों शवों को बाहर निकालकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मालपुरा लाया जहां चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित किया

By: pawan sharma

Published: 20 Jul 2018, 03:50 PM IST

मालपुरा. फसल को आवारा जानवरों से बचाने के लिए खेत की मेड़ के पास मिट्टी की खुदाई के बाद बरसात से खाई में भरे पानी में डूबने से गुरुवार को भाई-बहिन की मौत हो गई। जानकारी अनुसार उपखण्ड के चांदसेन ग्राम पंचायत की बासनवाल की ढाणी में कमलेश मीणा के खेत में तीन-चार दिन पूर्व जेसीबी मशीन से मिट्टी की खुदाई कर मेड़ पर डलवाई गई थी।

 

दो दिनों से हो रही बरसात से करीब चार-पांच फीट गहरी खाई में पानी भर गया था। खाई में भरे पानी में कमलेश की पुत्री आठ वर्षीय पायल 8 व पुत्र छह वर्षीय रोहित की डूबने से मौत हो गई। भाई-बहिन की मौत की खबर मिलते ही ढाणी में कोहराम मच गया।

 

घटना की जानकारी मिलते पर तहसीलदार मोकम सिंह सिनसिनवार, डिग्गी थाना प्रभारी नियाज मोहम्मद, चांदसेन सरपंच हेमलता सैनी, कन्हैयालाल सैनी घटनास्थल पर पहुंचे तथा दोनों भाई-बहिन के शवों को ग्रामीणों की सहायता से बाहर निकाला।

 

दोनों शवों को बाहर निकालकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मालपुरा लाया जहां चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित किया तथा दोनों शवों का पोस्टमार्टम कर शव अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंपा। गौरतलब है कि लडक़ा कक्षा 3 में तथा लडक़ी कक्षा 4 में सरकारी विद्यालय में अध्ययनरत्त थे।

 


बारिश का मौसम देख चले गए
कमलेश का घर खेत से करीब 200 मीटर दूरी पर है। सुबह बारिश का मौसम पर दोनों बच्चे खेलते हुए खेत की ओर चले गए। अंदाजा लगाया जा रहा है कि इस दौरान मेड़ पर चढऩे से बच्चे पानी में गिर गए। घटना के दौरान खेत पर कोई भी नहीं था। काफी देर तक नहीं आने पर उन्हें तलाश किया गया तो उनके शव पानी में तैरते हुए नजर आए।

 

बाल्टी में डूबने से मासूम की मौत
कस्बे में गुरुवार को दूदू रोड स्थित एक मकान में खेल रहे एक वर्षीय मासूम की बाल्टी में भरे पानी में डूब जाने से मौत हो गई। जानकारी अनुसार टोंक निवासी हाल निवास मालपुरा जितेन्द्र माहुर का एक वर्षीय लडक़ा रितेश घर पर खेल रहा था कि अचानक घर में पानी से भरी बाल्टी में डूब जाने से मासूम बालक की मौके पर ही मौत हो गई।

 

घटना की जानकारी मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया। बालक की मां के चिल्लाने की आवाज पर आस-पास के लोगों ने मासूम को अस्पताल पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। गौरतलब है कि बालक का पिता शहर में सब्जी बेचने का कार्य करता है।

Patrika
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned