खराब हुई कार की मरम्मत कराने रूके थे युवक, लोगों ने बच्चा चोर गिरोह समझ पुलिस को सौंपा

जयपुर-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित धांधोली गांव के समीप बुधवार को एक मासूम बालिका को लिए कार सहित खड़े दो युवकों को ग्रामीणों ने बच्चा चोर गिरोह समझ पकड़ लिया।

दूनी. जयपुर-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित धांधोली गांव के समीप बुधवार को एक मासूम बालिका को लिए कार सहित खड़े दो युवकों को ग्रामीणों ने बच्चा चोर गिरोह समझ पकड़ लिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बालिका एवं दोनों युवकों को वाहन सहित थाने पर ले आई। बाद में युवकों से पुछताछ कर सम्बंधित थाने पर जानकारी करने के बाद सही पाए जाने पर तीनों को छोड़ा गया।

दूनी थाने के हैड कांस्टेबल देवनारायण गुर्जर ने बताया कि नांदोली थाना आकोला जिला चित्तोडगढ़़ निवासी श्यामलाल साथी माधोलाल जटिया सहित अपने भतीजे की छह वर्षीय बेटी खुशी को लेकर हिण्डौन सिटी से गांव जा रहे थे।

इस दौरान सुबह करीब आठ बजे कार खराब होने पर राजमार्ग पर खड़े थे और मिस्त्री लेकर आने के लिए किसी वाहन का इंतजार कर रहे थे। इसी दौरान बालिका खुशी रोने लगी। रो रही बालिका व पास खड़े युवकों को देख आस-पास के ग्रामीणों ने दोनों युवकों को बच्चा चोर गिरोह समझ पकड़ पुलिस को सूचना कर तीनों को सौंप दिया।


अवकाश खत्म होने पर खुशी को भेज दिया
बालिका खुशी के ताऊ नांदोली निवासी भैंरूलाल हिण्डौनसिटी में बोरवेल कम्पनी संचालक है। बालिका के पिता राजू कुछ दिनों के लिए हिण्डौन सिटी आए तो शीतकालीन अवकाश होने पर बालिका खुशी को भी अपने साथ ले आए। इस दौरान राजू के चाचा श्यामलाल किसी कार्य से कार लेकर हिण्डौन सिटी आए तो अवकाश खत्म होने पर खुशी को उनके साथ गांव के लिए भेज दिया।

मत्स्य एक्ट में एक गिरफ्तार
देवली. थाना पुलिस ने क्षेत्र के देवली गांव रोड पर अवैध रूप से मछली पकडकऱ ले जा रहे एक जने को गिरफ्तार किया है। हैडकांस्टेबल राजेश चौधरी ने बताया कि आरोपी विमल विश्वास निवासी बंगाली कॉलोनी देवली है, जो बीसलपुर बांध क्षेत्र से करीब 10 किलो मछली पकडकऱ ले जा रहा था। पुलिस ने आरोपी के पास से मछली बरामद कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही मत्स्य एक्ट में मामला दर्ज कर लिया। आरोपी को गुरुवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा।

pawan sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned