तालाबों को यूं खत्म करने लगी है नगर परिषद, उनमें डाल रहे शहर का कचरा

टोंक. नगर परिषद शहर के तालाबों के सौन्दर्यकरण पर तो ध्यान दे नहीं रही है, बल्कि उन्हें भरकर नष्ट कर रही है।

By:

Published: 21 Jul 2018, 11:55 AM IST

टोंक. नगर परिषद शहर के तालाबों के सौन्दर्यकरण पर तो ध्यान दे नहीं रही है, बल्कि उन्हें भरकर नष्ट कर रही है। इसके चलते ये प्राचीन तालाब सिकुड़ कर अब पोखर का रूप लेते जा रहे हैं। अभी भी स्थिति पर काबू नहीं पाया गया तो ये सिकुड़ के नाडी के रूप में हुए खत्म हो जाएंगे। नगर परिषद के कर्मचारी शहर से निकलने वाले कचरे तथा आस-पास के लोग भवन निर्माण से पहले निकलने वाले मलबे को तालाबों में डाल रहे हैं। इसके चलते ये तालाब लगातार सिकुड़ते जा रहे हैं। कई तालाबों तथा बरसात के पानी निकासी वाले क्षेत्रों पर तो अतिक्रमण कर चुके हैं।, शहर में मौजूदा तालाबों पर भी नगर परिषद अनदेखी बरत रही है। बल्कि उसके ही कर्मचारी इन्हें भर रहे हैं।

 

पाळ का बढ़ा दी चौड़ाई
शहर के प्राचीन व मध्य स्थित तेलियान तालाब के सौन्दर्यकरण को लेकर नगर परिषद ने कई बार बड़े दावे किए हैं, लेकिन ये दावे अब तक धरातल पर उतरे है। सुभाष चौक के समीप राजकीय उच्च माध्यमिक दरबार विद्यालय के कक्षा-कक्षों के निर्माण से पहले भवन को गिराया गया था। इन से निकला मलबा शहर से बाहर डालने के स्थान पर विद्यालय प्रशासन ने तालाब किनारे अंदर की ओर डाल दिया। इससे तालाब सिकुडऩे के कगार पर है। कुछ दिनों पूर्व आयुक्त सीमा चौधरी ने शिकायत पर निरीक्षण भी किया, लेकिन कार्रवाई नहीं होने पर ठेकेदार को एक तरह से मौन स्वीकृति मिल गई।

 

लगातार आती है ट्रैक्टर-ट्रॉलियां
शास्त्री नगर स्थित तालाब किसी समय में काफी बड़ा था। आज यह तालाब शहर के गंदे पानी को अपने में समेट रहा है। कई दिनों से तो आलम ये हो गया है कि नगर परिषद के कर्मचारी तथा आस-पास के लोग ट्रैक्टर-ट्रॉलियों में कचरा तथा मलबा लाकर यहां डाल रहे हैं। इससे ये तालाब भी लगातार सिकुड़ रहा है।

 

इन पर कभी दिया नहीं ध्यान
धार्मिक आस्था से जुड़े चतुर्भुज तालाब काफी हद तक अतिक्रमण की भेंट चढ़ चुका है। यहां भी पुरानी टोंक से निकले वाली गंदगी को डाला जा रहा है। रेडियावास में पहले कचरा डाला गया और अब कॉलोनियां बन गई है। इससे बरसात के पानी के निकास में रुकावट हो गई है। आलम ये हो गया कि जरा सी बरसात में शहर में बाढ़ सी हालत हो गई है।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned