टोंक में नकली घी बनाने का कारखाना पकड़ा


80 किलो नकली घी जब्त
अतिरिक्त जिला कलक्टर के नेतृत्व में हुई कार्रवाई

By: Vijay

Published: 29 Oct 2020, 09:53 PM IST


टोंक. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से विशेषतौर पर बनाई गई कमेटी ने गुरुवार को शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत शहर के मेहंदीबाग इलाके स्थित एक मकान में चल रहे नकली घी बनाने के कारखाने पर छापा मारा। टीम को आते देख मकान मालिक कहीं चला गया। टीम ने मकान के अंदर से नकली घी बनाने की सामग्री, बर्तन तथा 80 किलो नकली घी जब्त किया है। यह कार्रवाई अतिरिक्त जिला कलक्टर सुखराम खोखर के नेतृत्व में की गई। अधिकारियों के मुताबिक यह कारखाना मनीष खंडेलवाल का है। अतिरिक्त जिला कल्क्टर सुखराम खोखर के नेतृत्व वाली टीम मकान पर पहुंची तो उन्हें कोई नहीं मिला। मकान के अंदर पहुंची तो नकली घी बनाने की प्रक्रिया देखकर दंग रह गई। उन्हें दीपावली पर्व को लेकर बनाया जा रहा 80 किलो नकली घी मिला। टीम ने नकली घी बनाने वाली सामग्री में शामिल तेल, एसेंस व अन्य, सिलेण्डर, कांटा समेत बर्तनों को जब्त कर लिया। इसके अलावा कई कम्पनियों के रैपर व टीन भ्ी मिले। टीम अब आगे की कार्रवाई कारखाना मालिक पर करेगी। टीम में खाद्य निरीक्षक सत्यनारायण गुर्जर, सरस डेयरी प्रबंधक प्रमोद चारण आदि शामिल थे।
दुकानें बंद कर भागे दुकानदार
अलीगढ़.कस्बे में बुधवार देर शाम को खाद्य सुरक्षा टीम ने उनियारा एसडीएम रजनी मीना के नेतृत्व में परचूनी व मिष्ठान भण्डार की दुकानों पर कार्रवाई की गई। सैंपल की कार्रवाई में हड़कंप मच गया और दुकानदार अपनी दुकानें बंद कर भाग छूटे। टीम में शामिल खाद्य सुरक्षा अधिकारी टोंक सत्यनारायण गुर्जर ने बताया कि एक परचूनी की दूकान पर घी व बसस्टेण्ड स्थित मिष्ठान भण्डार से दूध व पनीर आदि के अलग-अलग सेंपल की कार्रवाई कर इलेक्ट्रॉनिक कांटे का भी सत्यापन किया गया। परचूनी की दूकान पर एक्सपायरी सामान को हटवाया गया।

Vijay Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned