scriptतेज गर्जना से गिरी बिजली, चार कर्मचारी हुए अचेत, दीवारों से उखड़ा प्लास्तर | Four employees became unconscious due to lightning | Patrika News

तेज गर्जना से गिरी बिजली, चार कर्मचारी हुए अचेत, दीवारों से उखड़ा प्लास्तर

locationटोंकPublished: Mar 01, 2024 05:53:26 pm

Submitted by:

pawan sharma

टोंक जिले में शुक्रवार को फिर मौसम बदला। कई जगह ओले गिरे। वहीं पीपलू कस्बे में आकाश में तेज गर्जना हुई तथा पंचायत समिति पर बिजली गिरने से चार कर्मचारी अचेत हो गए।

 

तेज गर्जना से गिरी बिजली, चार कर्मचारी हुए अचेत, दीवारों से उखड़ा प्लास्तर
तेज गर्जना से गिरी बिजली, चार कर्मचारी हुए अचेत, दीवारों से उखड़ा प्लास्तर
टोंक जिले में शुक्रवार को फिर मौसम बदला। कई जगह ओले गिरे। वहीं पीपलू कस्बे में आकाश में तेज गर्जना हुई तथा पंचायत समिति पर बिजली गिरने से चार कर्मचारी अचेत हो गए। बिजली मीटर के तार टूट गए। कार्यालय की दीवारों से प्लास्तर उखड़ा हुआ नजर आयाए दीवारों में दरार आ गई।
पंचायत समिति में मौजूद स्टॉफ चारों कर्मचारियों को लेकर पीपलू सामुदायिक अस्पताल पहुंचे। जहां पहुंचते-पहुंचते दो कर्मचारियों को होश आ गया। वहीं दो अन्य को भर्ती कर लिया गया। उन्हें भी करीब 15 से 20 मिनट बाद होश आ गया। करीब डेढ़ घंटे बाद उन्हें छुट्टी दे दी गई। पंचायत समिति में लगे मीटर सहित कई स्थानों से बिजली लाइन के तार टूट गए।
धमाके से कार्यालय में मौजूद करीब 30 से अधिक कार्मिक, ग्राम विकास अधिकारी सहम गए तथा एक मिनट के लिए पूरी तरह से सन्नाटा छा गया। इसके बाद सभी इधर-उधर बिजली गिरने सहित कहां क्या हुआ को देखने लगे तथा कुछ समझ पातेए उससे पहले कार्यालय में मौजूद कार्यालय में बैठकर कम्प्यूटर पर कार्य कर रहे कनिष्ठ सहायक रामपाल सैनी (35), कम्प्यूटर ऑपरेटर जीतराम चौधरी (23), उमेश कुमार सैनी (27) , संस्थापन शाखा के मुकेश कुमार बैरवा ,(44) अर्थिंग आने से कुर्सी पर ही अचेत होते दिखाई दिए।
गंभीर चोट नहीं आई

इन्हे बेहोशी हालत में देखकर हडक़ंप मच गया फिर अन्य कर्मचारियों ने इन्हे संभाला। हालांकि इन्हें कोई गंभीर चोट नहीं आई। बाद में बदहवाश हालात में इन्हे निजी साधनों से स्टॉफ कर्मी अस्पताल ले गए। जहां इनका इलाज किया गया। इनमें से रामपाल सैनी और जीतराम चौधरी को तो भर्ती करना पड़ा। अन्य 2 कर्मचारियों का भी प्राथमिक उपचार किया गया। करीब दो बजे इन्हे डिस्चार्ज कर दिया गया।
प्रधान कक्ष में हल्का सा प्लास्तर उखड़ कर गिरा

इस हादसे के दौरान पंचायत समिति प्रधान कक्ष में रोशनदान (खिडक़ी) के यहां से हल्का से प्लास्तर उखड़ कर गिर गया। वहीं बिजली लाइन पूरी तरह से जल गई। जानकारों की माने तो आकाशीय बिजली विद्युत लाइन में प्रवाहित हो गई जिससे बड़ा हादसा टल गया अन्यथा जान.माल की बड़ी हानि हो सकती थी।
ग्राम विकास अधिकारी संघ की थी बैठक

शुक्रवार को पंचायत समिति कार्यालय के यहां ग्राम विकास अधिकारी संघ की बैठक होने से 15 से अधिक ग्राम विकास अधिकारी सहित पंचायत समिति के करीब 15 कार्मिक वहां मौजूद थे। अचानक बारिश शुरु होने से कुछ कार्मिक कार्यालय में बैठकर कार्य कर रहे थे। वहीं कुछ कार्मिक बाहर की तरफ कुर्सी लगाकर बैठे हुए थे। इसी दौरान अचानक से यह तेज धमाका हुआ तो सभी सहम उठे। हालांकि बड़ा हादसा टलने से सभी भगवान का शुक्रिया करते हुए नजर आए।
यहां भी गिरे ओले

टोडारायसिंह उपखण्ड के कुहाड़ाबुजुर्ग गांव में भी ओले गिरे। इससे फसलों में नुकसान को लेकर किसान चिंतित हो गए।

ट्रेंडिंग वीडियो