ना सडक़ ना नाली, रास्ते में भरा है गंदा पानी

जयपुर-कोटा राजमार्ग के किनारे गणेश मंदिर की ओर जाने वाले पुराने मार्ग पर नालियों के अभाव में घरों से निकलने वाला गंदा पानी रास्ते में फैल रहे है। यहां पर गंदे पानी की निकासी के लिए उचित प्रबंध नहीं होने के कारण मंदिर जाने वाले श्रद्धालुओं को काफी परेशानियां होती है।

By: pawan sharma

Published: 14 Apr 2021, 07:56 AM IST

टोंक . जयपुर-कोटा राजमार्ग के किनारे गणेश मंदिर की ओर जाने वाले पुराने मार्ग पर नालियों के अभाव में घरों से निकलने वाला गंदा पानी रास्ते में फैल रहे है। यहां पर गंदे पानी की निकासी के लिए उचित प्रबंध नहीं होने के कारण मंदिर जाने वाले श्रद्धालुओं को काफी परेशानियां होती है।

सडक़ के अभाव में बीच में बनी कच्ची नालियों से पैदल सहित वाहन चालक भी परेशान है। दो साल पहले सीवरेज के लिए खुदाई का काम हुआ था, लेकिन बीच में ही काम बंद हो जाने से सीवर के टेंक जमीन से बाहर निकले हुए है। इनकी ठोकर से बच्चें व वृद्ध कई बार चोटिल हो चुके है। साथ ही कई घरों से मल की निकासी सीधे ही पाइप के माध्यम से रास्ते में की जा रही है। साथ ही पानी बिजली, सफाई जैसी मूलभूत सुविधाओं का भी अभाव बना हुआ है।

सडक़ नहीं होने से नालियों को अभाव बना हुआ है। घरों से निकलने वाला गंदा पानी बीच रास्ते में जमा रहता है। खुली व कच्ची नालियां होने से दुर्गंध से माहौल भी दूषित रहता है। मंदिर जाने के लिए पुराना शॉर्टकट रास्ता होने के कारण इधर से गुजरने वाले श्रद्धालुओं को कीचड़ व गंदगी के बीच से होकर गुजरना पड़ता है।

गर्मी का दौर शुरू हो गया है ऐसे में लाइट कटौती से परेशानी हो रही है। रोड लाइट के अभाव में रात को अंधेरे में लोगों को आने जाने में परेशानी का सामना करना पड़ता है। एक ओर शहर में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। वहीं दूसरी ओर कच्ची व खुली नालियों में जमा गंदे पानी में मच्छर व कीटाणू पनप रहे है। इस कारण लोग अन्य मौसमी बीमारियों की गिरफ्त में आ रहे है। ना तो यहां कोई सफाई करने वाले आते है न ही कोई गंदगी उठाने वाले आ रहे है।

आश्रितों को सौंपा बीमा राशि का चेक

दूनी. स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया शाखा भरनी में संभागीय अधिकारी रामरतन मीणा सहित अधिकारियों ने प्रधानमंत्री जीवन ज्योती योजनान्तर्गत दुर्घटना में मृतक पुरुष एवं महिला के आश्रितों को दो-दो लाख बीमा राशि का चेक सौंपा। बैंक प्रबंधक ने बताया कि भरनी निवासी मृतक बुद्धिप्रकाश प्रजापत के आश्रित हेमराज कुम्हार एवं थली निवासी मृतका भूरी देवी के आश्रित अंकित जांगीड़ को दो-दो लाख रुपए बीमा राशि का चेक सौंपा गया।

वही इधर, बड़ोदा राजस्थान क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक धुवांकला में शाखा प्रबंधक पंकज कुमावत ने पीएमएसबीवाई योजनान्तर्गत सीता बैरवा को दो लाख रुपए बीमा राशि का चेक सौंप मौजूद ग्रामीणों का बैंक योजनाओं की जानकारी दी। इस मौके पर सहायक प्रबंधक कृष्णकुमार गोयल, अनूज तंवर, राहूल सक्सेना, लोड़क्यालाल मीणा, घासीलाल गुर्जर, हरिराम प्रजापत, कमल प्रजापत, इमामुद्दीन सहित अन्य बैंककर्मी मौजूद थे।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned