जयकारों के बीच भगवान श्री सवाईभोज लिए रवाना हुए पदयात्री

जयकारों के बीच भगवान श्री सवाईभोज लिए रवाना हुए पदयात्री

Pawan Kumar Sharma | Publish: Sep, 05 2018 04:46:40 PM (IST) Tonk, Rajasthan, India

पदयात्रा हीरा चौक से सांडबाबा मंदिर पहुंची। जहां दर्शन कर पदयात्री रवाना हुए। इस दौरान जयकारों से शहर गुंजायमान हो गया।

 

टोंक. श्रीसवाईभोज यात्रा संघ व गुर्जर समाज की ओर से भगवान सवाईभोज की 11 वीं पदयात्रा देवनारायण मंदिर हीरा चौक से रवाना हुई। इससे पहले सोमवार रात मंदिर में जागरण हुआ। इसके बाद मंगलवार सुबह 9 बजे पूजा के बाद पदयात्रा रवाना हुई।

 

संघ के गोपाल खटाणा तथा रामलाल गुर्जर ने बताया कि पदयात्रा हीरा चौक से सांडबाबा मंदिर पहुंची। जहां दर्शन कर पदयात्री रवाना हुए। इस दौरान जयकारों से शहर गुंजायमान हो गया। ये पदयात्रा 10 सितम्बर को भगवान सवाईभोज मंदिर गोठा आसिंद जिला भीलवाड़ा पहुंचेगी।

 

पदयात्रा रवाना
निवाई .गणगौरी बाजार स्थित प्राचीन गणेश मंदिर से रणथम्भोर सवाईमाधोपुर के लिए पदयात्रा को झंडी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर पूर्व विधायक कमल बैरवा, किसान नेता मांगीलाल गुर्जर, सीआर लादूलाल, भागचंद , जिला उपभोक्ता कांग्रेस के जिलाध्यक्ष जाकिर मणियार, यात्रा के संचालक रामप्रेम सैनी, संयोजक रमाकांत की ओर से पूजा-अर्चना कर पदयात्रा को रवाना किया।

 

कल्याण धणी के लिए पदयात्रा रवाना
नगरफोर्ट. कस्बे से मंगलवार को डिग्गी कल्याण सेवा समिति की ओर से कल्याण धणी डिग्गी के लिए पदयात्रा रवाना हुई। पदयात्रा में रामसागर व नगरफोर्ट से लगभग तीन सौ श्रद्धालु कल्याण धणी के दरबार में माथा टेकेंगे। सेवा समिति अध्यक्ष राम प्रसाद शर्मा ने बताया कि पदयात्रा का पहला पड़ाव टोंक व दूसरा पड़ाव झिराना व तीसरे पड़ाव में डिग्गी पहुंचेगी।

 

गोगा नवमी मनाई
लाम्बाहरिसिंह. कस्बे मेें मंगलवार को गोगा नवमी मनाई गई। महिलाओं ने मिटï्टी से बनी मूर्ति की घर-घर पूजा की। महिला बसन्ती देवी साहू ने बताया कि प्रजापति समाज की महिला गोगा जी की मूर्ति को घर-घर लेकर पहुंची। जहां महिलाओं ने पंचामृत से स्नान करा विधिवत पूजा-अर्चना कर सुख-समद्धि की कामना की।

 

शिविर में 8 दर्जन रोगियों को परामर्श

देवली. जनसेवा समिति देवली व मेडिकल रिलीफ सोसायटी की ओर से मंगलवार को नि:शुल्क नेत्र चिकित्सा शिविर लगा। शिविर संयोजक कन्हैयालाल लुनिवाल ने बताया कि नेत्र रोग विशेषज्ञ आर. एस. शर्मा ने 96 रोगियों की जांच कर परामर्श दिया।

 

इनमें 13 रोगी मोतियाबिन्द की बीमारी से ग्रसित पाए गए। जिनका बुधवार को राजकीय अस्पताल में विशेषज्ञ के द्वारा नि:शुल्क ऑपरेशन किया जाएगा। शिविर में रोगियों के चश्मे, दवाई व भोजन की व्यवस्था भी नि:शुल्क रहेगी। शिविर के संचालन व व्यवस्था में समिति अध्यक्ष ओमप्रकाश दाधीच, शिवजीराम , घीसालाल, सत्यनारायण श्याम पारीक, प्रहलाद शर्मा, गफूर खां ने सहयोग किया।

 

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned