रियलिटी शोज पर बोले इंडियन आइडल अभिजीत सावंत,'शोज में टैलेंट से ज्यादा गरीबी दिखाते हैं'

By: पवन राणा
| Published: 20 May 2021, 05:44 PM IST
रियलिटी शोज पर बोले इंडियन आइडल अभिजीत सावंत,'शोज में टैलेंट से ज्यादा गरीबी दिखाते हैं'

'इंडियन आइडल' के पहले सीजन के विजेता अभिजीत सावंत का कहना है कि क्षेत्रीय रियलिटी शोज में प्रतियोगियों के टैलेंट पर फोकस किया जाता है। वहीं, हिन्दी रियलिटी सिंगिंग शोज में प्रतियोगी की गरीबी और दुखभरी कहानियों पर ज्यादा फोकस किया जाता है।

मुंबई। रियलिटी टीवी शोज में प्रतिभागियों के बैकग्राउण्ड पर ज्यादा फोकस करने को लेकर लोग विरोध में आवाज उठाते रहे हैं। खासकर गरीबी वाले बैकग्राउण्ड दिखाने पर लोग गुस्सा हो जाते हैं। इस तरह प्रतिभा के बजाय परिस्थिति पर ज्यादा फोकस करने को लेकर सोशल मीडिया पर लोग नाराजगी जाहिर करते हैं। कुछ साल पहले सिंगर सोनू निगम ने भी प्रतियोगियों की गरीबी को दिखाने पर फटकार लगाई थी। अब सिंगिंग रियलिटी शो 'इंडियन आइडल' के पहले विजेता अभिजीत सावंत ने भी टैलेंट से ज्यादा कंटेस्टेंट की गरीबी पर फोकस करने के चलन पर बात की है।

'गरीबी और दुखभरी कहानियों को भुनाया जाता है'
एक इंटरव्यू में अभिजीत सावंत ने कहा,'क्षेत्रीय रियलिटी शोज में अगर आप देखें तो दर्शकों को प्रतियोगियों के बैकग्राउण्ड के बारे में पता नहीं होता है। वहां केवल सिगर्स के टैलेंट पर फोकस किया जाता है। वहीं हिन्दी रियलिटी शोज में प्रतियोगियों की गरीबी और दुखभरी कहानियों को भुनाया जाता है।' शोज में प्रतियोगियों का लव इंट्रेस्ट दिखाने के सवाल पर अभिजीत ने कहा कि ये कंटेस्टेंट पर निर्भर करता है कि वे अपनी पर्सनल चीजों को पब्लिक करने में कितना सहज महसूस करते हैं। बता दें कि 'इंडियन आइडल 12' पवनदीप राजन और अरूणिता कांजीलाल के बीच लव इंट्रेस्ट पर फोकस किया जाता है। बता दें कि 'इंडियन आइडल' के पिछले सीजन के विजेता सनी हिन्दुस्तानी की गरीबी को खूब भुनाया गया। इस बार भी सवाई भाट के टैलेंट से ज्यादा उसकी गरीबी पर फोकस किया गया।

यह भी पढ़ें : Indian Idol 12: किशोर कुमार के बेटे अमित ने बताई शो की सच्चाई, शूट से पहले ऐसे फिक्स होता है सबकुछ


'किशोर कुमार एपिसोड पर विवाद'
पिछले दिनों 'इंडियन आइडल' पर दिग्गज सिंगर किशोर कुमार को श्रद्धांजलि देते हुए एक एपिसोड डेडिकेट किया गया। इस एपिसोड पर आरोप लगा कि इसमें किशोर के गानों के साथ न्याय नहीं किया गया। इस बारे में विशेष अतिथि बनकर आए किेशोर के बड़े बेटे ने भी नाराजगी जाहिर की। उनका कहना था कि निर्माताओं ने उनसे कहा था कि सिंगर कैसा भी गाए तारीफ करनी है। इस पर अभिजीत का कहना है कि किसी भी सिंगर की दिग्गज किशोर कुमार से तुलना गलत है। सिंगर के रूप में हम अपने-अपने स्टाइल में श्रद्धांजलि दे सकते हैं।

गलती पर नहीं होता था 'नाटक'
अभिजीत ने इस दौरान एक किस्सा शेयर किया जिसमें वे बताते हैं कि आजकल की तरह पहले प्रतियोगियों की गलतियों को स्पेशल इफेक्ट से नहीं दिखाया जाता है। उन्होंने कहा एक बार मैं शो के दौरान गाने के बोल भूल गया था। मैंने बीच में गाना छोड़ दिया। हालांकि जज ने मुझे फिर से गाने का मौका दिया। अगर ऐसा आज हो जाए, तो इफेक्ट के द्वारा बिजली कोंधती और कई तरह के इफेक्ट्स से दिखाया जाता।

यह भी पढ़ें : इंडियन आइडल की सयाली पर गरीबी की झूठी कहानी बताने का आरोप, पुराना वीडियो हुआ वायरल

मूवीज में भी किया काम
गौरतलब है कि अभिजीत सावंत ने 'इंडियन आइडल' में शिरकत के दौरान ही लाखों फैंस कमा लिए थे। इस शो को जीतने के बाद अभिजीत ने 'आपका अभिजीत सावंत' नाम से एलबम निकाला। फिल्म 'आशिक बनाया आपने' में भी उन्हें गाने का मौका मिला। साल 2009 में उन्होंने फिल्म 'लाटरी' से एक्टिंग में एंट्री ली। फिल्म 'तीस मार खां' में भी वे एक छोेटे रोल में नजर आए।