उदयपुर में यहां एक के बाद एक फिसले कई वाहन, संभलने तक का नहीं मिला मौका

इसके विरोध में क्षेत्रवासियों ने चक्काजाम कर विरोध प्रदर्शन किया।

By: jyoti Jain

Published: 01 Dec 2017, 09:47 AM IST

उदयपुर . प्रतापनगर से सुंदरवास तक चल रहा डिवाइडर सौन्दर्यकरण का कार्य नगर निगम की बदइंतजामी से वाहन चालकों एवं मार्ग के किनारे रहने वालों के लिए परेशानी का सबब बन गया है। इसके विरोध में क्षेत्रवासियों ने चक्काजाम कर विरोध प्रदर्शन किया।


इस सडक़ पर गत चार दिन से डिवाइडर में भरने के दौरान बिखरी बारीक चिकनी मिट्टी पसरी हुई है, जिससे धूल के गुबार उठते रहे लेकिन निगम ने इसकी सुध नहीं ली। इस बीच, गुरुवार को सडक़ किनारे नलकूप की खुदाई से निकले पानी से सडक़ पर कीचड़ पसर गया जिससे कई दुपहिया सवार फिसल गए। दो वर्षीय मासूम सहित चार लोग चोटिल हो गए। लगातार वाहनों के फिसलने से आक्रोशित वाहन चालकों एवं क्षेत्रवासियों ने लोहे के एंगल और सडक़ पर गाडिय़ां खड़ी कर जाम करते हुए नगर निगम के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान ठोकर चौराहा से प्रताप नगर तक लम्बा जाम लग गया।

 

गौरतलब है कि राजस्थान पत्रिका ने 30 नवम्बर के अंक में ‘दिनभर धूल के गुबार से व्यापारी परेशान’ शीर्षक से समाचार प्रकाशित कर निगम का इस ओर ध्यान आकर्षित किया था। मौके से लोगों ने नगर निगम में सूचना दी लेकिन कोई तत्काल मौके पर नहीं पहुंचे। बाद में कुछ लोगों ने महापौर को बताया तो उन्होंने एक्सईएन मुकेश पुजारी, जेईएन इरशाद को मौके पर भेजा।

 

 

bike slips in sundarwas udaipur

मासूम को आईं चोटें
सडक़ पर फिसलन से मोटरसाइकिल से गिरी मासूम को चोटें आईं। यह देखकर लोगों का गुस्सा और भडक़ गया। उन्होंने निगम के खिलाफ नारेबाजी कर रोष जताया। बसें भी जाम में फंसी रही।


पुलिस ले गई नलकूप खोदने की मशीन
जाम पर मौके पर पुलिस पहुंची, प्रतापनगर पुलिस ने नलकूप खोदने की स्वीकृति मांगी तो कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर नलकूप खोदने वाली गाड़ी ही जब्त कर थाने ले गई। व्यापारियों व जनता के विरोध को देखते हुए नगर निगम ने शाम को ही स्वास्थ्य शाखा से टीमें लगाई। पार्षद वेणीराम सालवी ने बताया कि सडक़ सीमा पर फैली मिट्टी को साफ कराने का काम शुरू कर दिया ताकि वाहनों तथा क्षेत्रवासियों को असुविधा नहीं हो।

 

READ MORE: विनोद माली हत्याकांड...पति को ठिकाने लगाकर प्रेमी संग घर बसाना चाहती थी मोनिका, पहले तो अनजान बन किए नाटक, फिर स्वीकार किया जुर्म


जाम में फंसी चार एम्बुलेंस

इस दौरान मरीजों को ले जा रही चार एम्बुलेंस जाम में फंस गईं। एम्बुलेंस में सवार मरीजों की जान सांसत में रही। क्षेत्रवासियों ने उन्हें जाम में से रास्ता देकर जैसे-तैसे रवाना किया। करीब आधे घंटे के बाद मौके पर पुलिस पहुंची तो लोगों ने उनके सामने निगम प्रशासन को खूब खरी-खोटी सुनाई।

सूचना मिलते ही मैंने इंजीनियर्स मौके पर भेजे। पता चला कि नलकूप खुदाई से जो पानी निकला, उससे यह स्थिति हो गई। जाम के बाद हमारे स्टाफ और पार्षद वेणीराम को भी मौके पर भेज दिया। हमने तो मिट्टी हटवाने के लिए बोला ही था लेकिन इस बीच पानी सडक़ पर आने से जाम और फिसलन हो गई। मैंने हाथोंहाथ सडक़ सीमा में बांस-बल्लियां लगाने वालों के खिलाफ कार्रवाई को भी कहा है।
चन्द्रसिंह कोठारी, महापौर

 

jyoti Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned