बिजली के पोल टूटकर लोहे के सरियों पर अटके, शिकायत के बावजूद विभाग बेखबर

बिजली के पोल टूटकर लोहे के सरियों पर अटके, शिकायत के बावजूद विभाग बेखबर

Bhagwati Teli | Updated: 24 Jun 2019, 08:12:50 PM (IST) Bhatewar, Udaipur, Rajasthan, India

बिजली विभाग electricity department द्वारा रखरखाव के नाम पर आए दिन शट डाऊन लेकर के रखरखाव का कार्य करवाया जारहा है लेकिन क्षैत्र में स्थिति जस की तस बनी हुई है जिसका खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा है। इसी प्रकार का एक मामला महाराज की खेडी गॉव में सामने आया है। जहां पर एक किसान के खेत की सीमा पर लगे बिजली के दो पोल टूटकर लोहे के सरियों पर अटके हुए है जिसकी सुध अभी तक बिजली विभाग द्वारा नहीं ली गई है।

हेमन्त गगन आमेटा/भटेवर. बिजली विभाग avvnl द्वारा रखरखाव के नाम पर आए दिन शट डाऊन लेकर के रखरखाव का कार्य करवाया जारहा है लेकिन क्षैत्र में स्थिति जस की तस बनी हुई है जिसका खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा है। इसी प्रकार का एक मामला महाराज की खेडी गॉव में सामने आया है। जहां पर एक किसान के खेत की सीमा पर लगे बिजली के दो पोल टूटकर लोहे के सरियों पर अटके हुए है जिसकी सुध अभी तक बिजली विभाग द्वारा नहीं ली गई है।

गॉव के किसान farmer श्याम लाल डांगी ने बताया की खेत की सीमा पर बिजली विभाग द्वारा लगाए गए दो पोल के बाहर से सीमेंट टूटकर दो जगहों से लोहे के सरियों पर अटके हुए है। इसको लेकर कई बार बिजली विभाग में लिखित में शिकायत भी दर्ज करवाई गई लेकिन इन पोल को अभी तक नही बदला गया है। इस वजह से हर पल कृषि कार्य करते समय हादसा होने का डर बना हुआ है। इस पोल पर बिजली के तार भी बंधे हुए हैं जो कभी भी पोल के टूटने से जमीन पर आकर गिर सकते हैं जिससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। लेकिन बिजली विभाग के कर्मचारियों द्वारा इस मामले में कोई संज्ञान नही लिया गया। विभाग की इस लापरवाही से किसान को हर पल खतरा होने का डर सता रहा है जिससे किसान खेत में बुवाई का कार्य भी नही कर पा रहा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned